शेयरचैट ने ‘यूपी’ के लिए ईयर एंड (2019) यूजीसी ट्रेंडज़ रिपोर्ट जारी की उत्तर प्रदेश में शेयरचैट क्रिएटर्स ने सबसे अधिक “भक्ति, रोमांस और रिश्‍ते” के कंटेन्‍ट बनाये और पोस्‍ट किये

  • नए कंटेन्‍ट प्‍लेटफॉर्म में शामिल हुए, लोकप्रिय बने और बढ़त हासिल की
  • ‘यूपी से इस साल हिन्‍दी भाषा में शेयरचैट से 200 मिलियन से अधिक व्हाट्सएप शेयर किये गये

 

लखनऊ, जनवरी, 2019: भारत के सबसे बड़े क्षेत्रीय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, शेयरचैट, ने आज यूपी के लिए 2019 यूजीसी ट्रेंड्स रिपोर्ट की घोषणा की। यह रिपोर्ट उत्तर प्रदेश के लाखों हिंदी भाषी उपयोगकर्ताओं (यूजर) के बीच 2019 के प्रमुख यूजर जेनेरेटेड कंटेन्‍ट (यूजीसी) के रुझानों और विषयों के बारे में बताती है, जो ऑनलाइन बातचीत के लिए प्रेरित करते हें। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस साल प्‍लेटफॉर्म से जुड़ने वाले राज्य के नए क्रिएटर ने लोकप्रियता हासिल करने के लिए कैसे अपनी प्रतिभा दिखायी और बढ़त हासिल की।

 

भक्ति” विषय ने इस वर्ष ट्रेंड में शीर्ष स्थान हासिल किया है, जिसमें कंटेन्‍ट बनाने वाले/पोस्ट करने वाले 15% से अधिक यूजर शामिल रहे। दिलचस्प बात यह है कि अपने “शिष्टाचार” के लिए चर्चित उत्तर प्रदेश में “रोमांस और रिश्ते” का विषय 13.74% से अधिक कंटेन्‍ट सामग्री के साथ नंबर 2 पर ट्रेंड कर रहा है। इसके साथ ही, यूपी के यूजीसी व्यवहार में दर्शाते हैं कि “शुभकामनाओं” का विषय 11.42% रुझान के साथ नंबर 3 पर ट्रेंड कर रहा हे।

 

रिपोर्ट के अनुसार, अधिकांश शेयरचैट यूजर 18-30 आयु वर्ग के हैं, जो कि “भक्ति” के कंटेन्‍ट पर यूजीसी की बढ़त निश्चित रूप से सोशल मीडिया स्पेस में एक दिलचस्प अंतर्दृष्टि देती है, और जो भारत में कंटेन्‍ट के उपभोग पैटर्न की विविधता को उजागर करती है।

 

प्‍लेटफॉर्म पर शामिल होने वाले हजारों क्रिएटर

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि कैसे लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, मेरठ, अमरोहा आदि सहित यूपी के विभिन्न क्षेत्रों से हजारों नए क्रिएटर अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए शेयरचैट में शामिल हुए हैं और इस क्षेत्र में बेहद लोकप्रिय साबित हुए हैं।

 

वीडियो सामग्री का विकास

शेयरचैट 2019 यूपी ट्रेंडज़ रिपोर्ट के अनुसार, यूपी के इसके उपयोगकर्ताओं द्वारा शेयरचैट पर कुल 12.5 मिलियन यूजीसी बनाया गया, जिसे इस वर्ष 220 मिलियन से अधिक व्हाट्सएप शेयर मिले। हर दिन, लगभग 1000 घंटे के वीडियो को प्लेटफॉर्म पर अपलोड किया जाता है, और औसत रूप से 13 सेकंड का वीडियो प्ले होता है।

 

यह प्रवृत्ति कुछ रोमांचक विशेषताओं और टूल्स प्लेटफ़ॉर्म से प्रेरित होती है जिसमें ऑडियो फिल्टर, फेस फिल्टर और टंग ट्विस्‍टर शामिल हैं जो उपयोगकर्ताओं को अपने स्मार्टफ़ोन पर कुछ दिलचस्प वीडियो क्रिएट करने/रिक्रिएट करने में मदद करते हैं।

 

यूपी के लिए 2019 टॉप मोमेंट्स

यूपी से ट्रेंड कर रहे हैशटैग के गहन विश्लेषण से पता चलता है कि लोग त्योहारों और राष्ट्रीय मुद्दों दोनों में समान रूप से सक्रिय रहते हैं। लोगों ने जहां पुलवामा हमले पर अपना गुस्सा जाहिर किया तथा आम चुनावों और अयोध्या के फैसले पर प्रतिक्रियाएं दीं, वहीं वे दिवाली और होली सहित भारतीय त्योहारों को मनाने के लिए समान रूप से उत्साहित थे। यहां 2019 में शेयरचैट पर शीर्ष 5 समय दिये गये हैं: –

  1. होली 2019
  2. अयोध्या का फैसला
  3. चुनाव 2019
  4. पुलवामा हमला, और शहीदों को श्रद्धांजलि
  5. दिवाली 2019

 

शेयरचैट यूपी ट्रेंड्ज रिपोर्ट 2019 के बारे में बताते हुए, शेयरचैट के चीफ बिजनेस ऑफिसर श्री सुनील कामथ ने कहा कि बाजार के रूप में यूपी राष्ट्रीय हितों के मुद्दों/घटनाओं के प्रति संवेदनशीलता को प्रदर्शित करता है और सभी प्रमुख सांस्कृतिक कार्यक्रमों के रूप में” भारतीयता” का जश्‍न मनाता है, क्षेत्र के भोजन और त्यौहारों के प्रति प्‍यार दर्शाता है। यूपी और शेयरचैट के बीच का तालमेल, शेयरचैट को स्थानीय भाषा के उपयोगकर्ताओं के लिए स्थानीय स्तर पर जुड़ने और बातचीत करने का पसंदीदा प्‍लेटफॉर्म बनाता है। हम वर्षों से इस बाजार में अभूतपूर्व वृद्धि कर रहे हैं, क्योंकि हम वास्तव में बाजार को समझते हैं और अपने स्थानीय दर्शकों से अच्छी तरह से जुड़ते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि क्षेत्रीय भाषा के उपयोग ने यूपी में यूजीसी के व्यवहार को प्रेरित किया है और जमीनी स्तर पर छोटे-छोटे इन्‍फ्लुएंसर के विकास को बढ़ावा दिया है। ब्रांड पहले ही शेयरचैट पर अपने ग्राहकों के साथ हाइपर पर्सनलाइज्ड ब्रांड एक्सपीरियंस बनाने के लिए जुड़ने लगे हैं जो कि प्रभावशाली है और अधिक परिणाम सामने ला रहा है।”

 

2019 में, क्षेत्रीय भाषा में उपलब्‍ध सोशल मीडिया के कारण शेयरचैट सोशल मीडिया समूह में शामिल हुए और पहली बार इंटरनेट उपयोग करने वालों की संख्‍या में वृद्धि का गवाह बना तथा देशी भाषाओं में यूजर जेनेरेटेड कंटेन्‍ट में योगदान देने में सक्रिय रूप से भाग लिया। यूपी की शेयरचैट 2019 ईयर एंड ट्रेंड्ज रिपोर्ट के निष्कर्षों के अनुसार, यह वर्ष इमेज, वीडियो, जीफी के फॉर्मेट में आये 12.5 मिलियन से अधिक पोस्ट के साथ क्षेत्रीय भारतीय भाषाओं में आये यूजर जेनेरेटेड कंटेन्‍ट का गवाह बना।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More