सुपौल–मिथिला का लोकपर्व ” चौठचन्द्र” धुमधाम से मनाया गया

12

 

sonu kumar bhagat (1)

सोनू कुमार भगत

छातापुर (सुपौल )  । 

मिथिला परंपरा का लोकपर्व ” चौठचन्द्र” प्रखण्ड क्षेत्र सहित पुरे कोशी में हर्षोल्लास के साथ रविवार की  देर संध्या मनाया गया। संध्या के समय आंगन एवं छतों पर महिलाओं ने रंग बिरंगे अरिपन बनाईं। तथा मिट्टी के छोटे छोटे बर्तनों में दही, पकवानों से भरी डाली को सजाया गया। ” व्रतधारी महिलाएं पर्व के निमित डाली ,छांछ छांछी समेत  हाथ में पान एवं सुपारी तथा  फल लेकर भगवान चन्द्रमा का स्मरण किया। उसके बाद उपस्थित लोगों ने बारी बारी से दहीं के बर्तन एवं पकवानों से भरी डाली को व्रती के हाथों में रख कर भगवान चन्द्रमा  का दर्शन करते हुए उन्हें  अघ्यॅ दिया। मिथिला परंपरा का यह पर्व घर घर में लोगों ने मनाया। अर्ध्य प्रदान करने के बाद मरर तोड़ने की परंपरा निभाई गयी । मुख्यालय बाजार के वार्ड नम्बर छह स्थित चंद्र भवन में भी पर्व भक्तिभाव के साथ मनाया गया । रवि रौशन कुमार ,संतोष कुमार भगत ,मंटू भगत ,चंद्र देव भगत ,रिम्मी कुमारी ,स्नेहा कुमारी ,चाहत कुमारी ,गोलू कुमारी ,निक्की देवी ,गुड्डू कुमार आदि ने  भगवान चन्द्रमा को अर्ध्य प्रदान कर जीवन मंगल की कामना किया । व्रती माँ फुलेश्वरी देवी ने चौथ चंद पर्व के महत्ता पर्व विस्तार से चर्चा किया । पर्व संपन्न होने के बाद रात्रि समय में ही प्रसाद वितरण के साथ साथ पर्व के निमित बने पकवान लोगो को खिलाया गया । 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More