SUCCESS STORY -प्रगतिशील किसान विश्वनाथ मार्डी के सफलता की कहानी

169

खेती को चुना रोजगार का साधन, परिवार की आर्थिक स्थिति में आया सुधार

उद्यान प्रभाग से श्री मार्डी को गुणवत्तायुक्त सब्जी उत्पदान करने के लिए कीट रहित सब्जी बिचड़ा उत्पादन ईकाई अनुदान पर उपलब्ध कराया गया है————————

JAMSHEDPUR

पटमटा प्रखंड के लावा पंचायत अंतर्गत दुआरडीह गांव के रहने वाले प्रगतिशील किसान विश्वनाथ मार्डी ने इंटरमीडिएट की पढाई पूरी करने के बाद व्यवसाय के रूप में खेती का चुनाव किया। इनके परिजन पूर्व में केवल धान की खेती किया करते थे जिससे साल में केवल एक फसल होने से आमदनी काफी कम होता था। इस कारण जमशेदपुर शहर में दैनिक मजूदर के रूप में भी इन्हे काम करना पड़ा । बुरे वक्त में प्रवासी मजदूर के रूप में श्री मार्डी ने बंगाल जाकर काम किया ताकि परिवार को आर्थिक रूप से कठिनाई न हो। परिवार से दूर रहने एवं खेती बाड़ी में झुकाव होने के कारण विश्वनाथ मार्डी पुनः अपने गांव की ओर लौटे और कुछ नए तरीके से खेती करने का मन बनाया । चूंकि इनकी पढाई इंटरमीडिएट तक हुई थी जिसका लाभ आधुनिक खेती करने में इनको मदद मिला जिससे आज इनका परिवार खुशहाल जीवन जी रहा है ।

उद्यान प्रभाग से जुड़कर प्रशिक्षण प्राप्त किया, लीज पर जमीन लेकर कर रहे खेती

कृषि विभाग के उद्यान प्रभाग से जुड़कर श्री मार्डी ने प्रशिक्षण का लाभ प्राप्त कर 3 एकड़ में विभिन्न सब्जी, फसलों का खेती आधुनिक तरीके से करना प्रारंभ किया। इन्हे आशातीत सफलता मिलने के उपरान्त अपने आस पास के 10 एकड़ जमीन लीज में लेकर विभिन्न सब्जी फसल यथा लौकी, टमाटर, गोभी एवं खीरा का उत्पादन करना शुरू किया। अपने ग्राम के करीब 15-20 महिला मजदूर को भी रोजगार उपलब्ध करा रहे है। श्री मार्डी अपने उत्पाद को पड़ोसी राज्य बिहार, बंगाल, ओडि़सा एवं जमशेदपुर में विक्रय करते हैं।

श्री मार्डी बताते हैं कि उनके दो बच्चे हैं जिनको अग्रेजी माध्यम के स्कूल में पढ़ा रहे हैं। हाल के दिनों में बिरसा कृषक श्री विश्वनाथ मार्डी ने खेती किसानी के आय से ही अपने परिवार के लिए कार भी खरीदा है। श्री मार्डी बिरसा कृषकों के लिए प्रेरणा के स्त्रोत है। कृषि विभाग के उद्यान प्रभाग से श्री मार्डी को गुणवत्तायुक्त सब्जी उत्पदान करने के लिए कीट रहित सब्जी बिचड़ा उत्पादन ईकाई अनुदान पर उपलब्ध कराया गया है। जिसमें वह स्वस्थ पौधे तैयार कर गुणवत्तायुक्त सब्जी का उत्पादन करते है। श्री विष्वनाथ मार्डी बिरसा किसान अन्य किसानों को भी झारखंड सरकार द्वारा चलाये जा रही योजनाओं से लाभ लेने हेतु जागरूक कर रहे हैं।

जिला उद्यान पदाधिकारी श्री मिथिलेश कालिंदी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 उद्यान विकास की योजनाओं के लिए योग्य लाभुकों से आवेदन लिया जा रहा है । पूर्वी सिंहभूम जिला के बिरसा किसान उद्यान मित्र/प्रखंड तकनीकि प्रबंधक/ सहायक तकनीकि प्रबंधक / झारखंड स्टेट लाईवली हुड प्रमोशन सोसाईटी/झारखंड ट्राईबल डेवलपमेंट सोसाईटी से संपर्क कर आवेदन यथाशीध्र प्राप्त कर योजनाओं का लाभ उठायें ।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More