जामताड़ा वासियों को रेलवे ने दिया सौगात, मोर्य एक्सप्रेस का हुआ ठहराव बोदमा रेलवे ओवर ब्रिज का हुआ शुभारंभ

0 273

जामताड़ा।
जामताड़ा जिला के लिए 9 अक्टूबर शनिवार महत्वपूर्ण दिन रहा केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने जामताड़ा वासियों को रेलवे ओवरब्रिज और मोर्या एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव दिया है। दुर्गा पूजा के दौरान रेलवे की ओर से जामताड़ा वासियों को दिया गया यह तोहफा काफी महत्वपूर्ण है। जामताड़ा रेलवे स्टेशन में इसके लिए विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

जामताड़ा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या दो पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जहां वर्चुअल माध्यम से रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, ईस्टर्न रेलवे के जीएम अरुण अरोरा शामिल हुए। वही कार्यक्रम में दुमका सांसद सुनील सोरेन, जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी, डीआरएम आसनसोल परमानंद मिश्र, डीसी फैज अक अहमद मुमताज मंचासीन थे। इस दौरान जामताड़ा स्टेशन पर इनॉग्रेशन के लिए संकेतिक ट्रेन पहुंची। जिसका हरी झंडी दिखाकर अतिथियों ने जामताड़ा से रवाना किया। मौके पर रेल मंत्री ने वर्चुअल माध्यम से अपने संबोधन में कहा कि जामताड़ा के लिए यह बहुत खुशी की बात है कि रेलवे ओवर ब्रिज और मोर्य एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव दिया गया है। इसके लिए सांसद एवं विधायक की ओर से बेहतर प्रयास किया गया था। उन्होंने सांसद के प्रयास की सराहना की और विशेष रूप से उन्हें धन्यवाद भी दिया। रेल मंत्री ने कहा कि आजादी के 75वें वर्ष अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। जिसमें ट्रेनों के ठहराव, नए ट्रेनों का परिचालन इत्यादि रेलवे की ओर से दिया जा रहा है। इसी कड़ी में यह सुविधा जामताड़ा वासियों के लिए उपलब्ध कराई गई है।

वही महाप्रबंधक पूर्व रेलवे ने अतिथियों का स्वागत किया और रेलवे की ओर से बोदमा रेलवे ओवर ब्रिज के प्रारंभ करने तथा मौर्य एक्सप्रेस ट्रेन के ठहराव की घोषणा की। उन्होंने बताया कि रेलवे ओवरब्रिज के प्रारंभ हो जाने से यातायात में लोगों को सुगमता होगी। वहीं सांसद सुनील सोरेन ने दुमका से जामताड़ा को रेल लाइन से जोड़ने की बात कही जिस के संदर्भ में उन्होंने बताया कि उसके लिए सर्वे का काम किया जा रहा है।

वही जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी ने कहा कि जामताड़ा में ट्रेन का ठहराव होना कोई बहुत बड़ी खुशी की बात नहीं है। यह तो होना ही था, इसके लिए लंबे समय से मेरी ओर से प्रयास किया जा रहा था। साथ ही सांसद ने भी इसके लिए आवाज उठाई थी। 11 ट्रेनें केंद्र सरकार ने बंद कर दी है जो गरीबों के लिए थी, जिसमें तूफान एक्सप्रेस ट्रेन भी शामिल है। रेलवे को बेचने का काम किया जा रहा है, जिसका कांग्रेस विरोध करती है और करती रहेगी।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More