जमशेदपुर -वीमेंस कॉलेज में 22 सितंबर से नया सत्र शुरू, तैयारियों को लेकर हुई अहम बैठक

126

जमशेदपुर ।
वीमेंस कॉलेज में नया सत्र 22 सितंबर से ऑनलाइन शुरू हो रहा है। सबसे पहले काॅमर्स की स्नातक प्रथम सत्र की नव नामांकित छात्राएँ ऑनलाइन कक्षाओं में जुड़ेंगी। काॅलेज द्वारा ईमेल से छात्राओं को सूचना भेजी जा रही है। इसी क्रम में समाज विज्ञान व मानविकी की ऑनलाइन कक्षाएं 23 और विज्ञान की 24 सितंबर से शुरू होंगी। प्राचार्या प्रो. (डॉ.) शुक्ला महांती ने नये सत्र की तैयारियों को लेकर सभी शिक्षक व शिक्षिकाओं के साथ अहम बैठक की। उन्होंने विभागाध्यक्षगण को विभागीय रूटीन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। पहले सेमेस्टर की कक्षाएं शुरू होने के बाद अन्य सेमेस्टर की कक्षाएं भी शुरू होंगी। प्राचार्या ने जानकारी दी कि काॅलेज ऑनलाइन शिक्षण के लिए लाइसेंसयुक्त साॅफ्टवेयर खरीदने की प्रक्रिया में है। इसके उपलब्ध हो जाने पर असीमित छात्राओं को एक साथ ऑनलाइन पढ़ाया जा सकेगा। उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि कक्षाएं शुरू हो जाने से मानसिक अवसाद से छात्राएँ, शिक्षिकाएं व शिक्षक मुक्त रहेंगे। बौद्धिक व्यस्तता हमें नकारात्मक होने से बचाती है।

नये सत्र से नया पाठ्यक्रम
प्राचार्या ने बताया कि स्नातक और स्नातकोत्तर में जो नया नामांकन हुआ है, उन्हीं की पढ़ाई नये पाठ्यक्रम से होगी। इन पाठ्यक्रमों का अंतिम अनुमोदन कल अकादमिक कौंसिल की बैठक में होगा। पुराने सत्र की छात्राएँ पहले वाले पाठ्यक्रम के अनुसार ही पढ़ेंगी।

रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट सेल होगा स्थापित
काॅलेज जल्दी ही अपना रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट सेल स्थापित कर रहा है। यह एक इंटीग्रेटेड सेल होगा जो शिक्षक-शिक्षिकाओं को शोध प्रस्ताव तैयार कराने में सहयोग से लेकर विभिन्न संस्थाओं व निकायों से वित्तीय सहायता प्राप्त करने में मार्गदर्शक की भूमिका निभाएगा। शोध की प्राप्तियों का पेटेंट हासिल करने, शोध को प्रकाशित कराने का दायित्व भी सेल का होगा। प्राचार्या ने कहा कि इसके लिए सभी संकायों से प्रतिनिधियों को शामिल किया जाएगा।

दो पालियों में आयोजित हो सकती हैं कक्षाएं
प्राचार्या ने कहा कि राज्य सरकार उच्च शिक्षा में सकल नामांकन अनुपात को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसलिए चांसलर पोर्टल के माध्यम से पहले की अपेक्षा अधिक नामांकन हुए हैं। सभी नामांकित छात्राएँ समुचित और समान रूप से शिक्षा पायें इसलिए दूसरी पाली में कक्षाएं शुरू की जानी है। इसके लिए जहाँ जरूरी है वहाँ अतिथि शिक्षक की व्यवस्था करने पर विचार किया जा रहा है।

ऑनलाइन परीक्षा की सफलता को लेकर उन्होंने परीक्षा नियंत्रक डाॅ रमा सुब्रमण्यम, सहयोगी शिक्षक- शिक्षिकाओं, तकनीकी समूह सहित सबकी प्रशंसा की। बैठक के दौरान उन्होंने सभी को सुरक्षित रहने की परामर्श दिया। कहा कि बहुत आवश्यकता होने पर ही घर से निकलें और कोविड के लिए जारी किए गए एहतियाती प्रोटोकॉल का पालन करें। विटामिन सी का भी सेवन नियमित रूप से करें।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More