121 सीटो के लिए थमा चुनाव प्रचार ,कई प्रमुख नेता भी इस चरण में , 17 अप्रेैल को है चुनाव

57

नई दिल्ली,डेस्क ,16 अप्रैल,
लोकसभा चुनाव के पांचवे चरण के अंतर्गत 17 अप्रैल को होने वाले मतदान के लिए प्रचार का शोर मंगलवार शाम पांच बजे शांत हो गया। उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड ,मध्य प्रदेश, राजस्थान व कर्नाटक समेत 12 राज्यों की 121 संसदीय सीटों पर 1769 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। ओडिशा की 77 विधानसभा सीटों पर भी चुनाव इसी दिन होंगे। प्रमुख प्रत्याशियों में केंद्रीय मंत्रियों सुशील कुमार शिंदे, गुलाम नबी आजाद, वीरप्पा मोइली, मल्लिकाजरुन खड़गे और सचिन पायलट, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा, अभिनेता व वरिष्ठ भाजपा नेता शत्रुघ्न सिन्हा, मेनका गांधी, अनंत कुमार, पूर्व गृह सचिव आरके सिंह, लोकसभा उपाध्यक्ष कड़िया मुंडा, भाजपा से बगावत करने वाले दिग्गज नेता जसवंत सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, कांग्रेस नेता अजीत जोगी और इंफोसिस के सह संस्थापक नंदन नीलेकणि का नाम शामिल है। 1इस चरण में उत्तर प्रदेश में 11, बिहार में सात, झारखंड में छह, पश्चिम बंगाल में चार, मध्य प्रदेश में 10, छत्तीसगढ़ में तीन, जम्मू-कश्मीर और मणिपुर में एक-एक, राजस्थान में 20, महाराष्ट्र में 19, कर्नाटक में 28 और ओडिशा में 11 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। कुल 1761 में से 465 प्रत्याशी करोड़पति हैं। दक्षिण बेंगलूर से चुनाव लड़ रहे नंदन नीलेकणि सबसे अमीर हैं। उन्होंने अपने हलफनामे में करीब 7700 करोड़ की संपत्ति घोषित की है। वहीं महाराष्ट्र के सतारा से निर्दलीय उम्मीदवार कदम सागर उत्तमराव सबसे गरीब उम्मीदवार हैं। उनके पास संपत्ति के नाम पर मात्र 150 रुपये है। सबसे ज्यादा महिला उम्मीदवार इसी चरण में चुनाव लड़ रहीं हैं।1कई दलों के वरिष्ठ नेताओं के बेटे-बेटियां भी महासमर में हैं। इनमें राकांपा प्रमुख शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के पुत्र दुष्यंत सिंह, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता यशवंत सिन्हा के बेटे जयंत सिन्हा और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती भी शामील है।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More