मधेपुरा — गायत्री परिवार चौसा द्वारा”एक दीप शहीदों के नाम” कार्यक्रम का आयोजन किया

 

SANJAY KUMAR SUMANSANJAY KUMAR SUMAN

संजय कुमार सुमन
मधेपुरा
जिले के चौसा प्रखंड मुख्यालय स्थित दुर्गा मंदिर परिसर में गायत्री परिवार चौसा द्वारा”एक दीप शहीदों के नाम” कार्यक्रम  का आयोजन किया।
जिसका उदघाटन प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा एवं थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह ने सयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया।
इस अवसर पर चौसा प्रखंड के पूर्व बीस सूत्री अध्यक्ष अम्बिका प्रसाद, पूर्व मुखिया सूर्य कुमार पट्वे, राजकिशोर पासवान, चौसा पश्चिमी के सरपंच प्रतिनिधि गजेन्द्र यादव,जदयू नेता चंदेश्वरी साह,सामाजिक शैक्षणिक कल्याण संघ के संयुक्त सचिव वीरेन्द्र कुमार वीरू,वरीय सदस्य जवाहर चौधरी,आरिफ आलम,आफताब आलम,संजय यादव समेत दर्जनों लोगों ने शहीदों के नाम दीप जला कर उनको याद किया।
इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अखिल विश्व गायत्री परिवार चौसा के सदस्य चक्रधर मेहता, गोपाल साह,कुँजबिहारी शास्त्री,प्रमोद प्रियदर्शी, देव कुमार देवांशु, केशव कुमार, प्रहलाद शर्मा, गीता देवी, पूजा भारती, शिवांगी कुमारी, सावित्री देवी,फेकनी देवी आदि की भूमिका सराहनीय रही।कार्यक्रम में पूरी लगन से देश के शहीद जवानो के लिए मंत्र उच्चारण तथा शहीदों की आत्मा के शांति के लिए प्रार्थना किया। चक्रधर मेहता,गोपाल साह,प्रमोद प्रियदर्शी ने अब के बरस तुझे धरती की रानी कर देंगे,जिंदगी मौत न बना जाये संभालो यारो,ऐ मेरे वतन के लोगों जरा आँख में भर लो पानी,हर करम अपना करेंगे अ वतन तेरे लिए” जैसे राष्ट्रभक्ति गीत गाकर लोगों की आँखे नम कर दी।
अपने सम्बोधन में बीडीओ श्री वर्मा ने कहा कि हमारी जिंदगी इन वीर जवानों की बदौलत ही सुरक्षित है। इन्ही की बदौलत हम अपने घरो में सुख,शांति और खुशहाल हैं।इनके शहीद होने पर यदि एक दीप जलाते हैं तो कुछ नही करते हैं। गायत्री परिवार द्वारा आयोजित यह कार्यक्रम यादगार रहेगा। आयोजक धन्यवाद के पात्र हैं।थाना अध्यक्ष श्री सिंह ने कहा कि हमें वीर जवानों से सीख लेनी चाहिये। जो अपने परिवार को हम लोगों के बीच छोड़ कर देश की सरहद पर अपनी कुर्बानी देने के लिये हर वक्त तैयार रहते है। उनके परिवार पूजनीय और आदरणीय हैं। बीस सूत्री के पूर्व अध्यक्ष श्री गुप्ता ने कहा कि वीर जवानों की शहीद पर प्रायः हमारी आँखे नम जो जाती है। काश मैं भी इन वीर जवानों की तरह देश की सेवा कर पाता। मुझे फक्र हैं अपने देश के जवानों पर।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More