जमशेदपुर-कमल की गिरफ्तारी को लेकर हुई जादुगोङा में हुआ विशाल रैली

 

संतोष अग्रवाल , जमशेदपुर .1 फरवरी

जमशेदपुर के  जादूगोड़ा के ठगे गए निवेशको ने 1500 करोड़ रुपैया का घोटालेबाज कमल सिंह एवं उसके भाई दीपक सिंह के 18 माह के  बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने पर निवेशको का गुस्सा आंखिरकार सड़क पर उतरने के लिए बाध्य हुआ एवं रविवार को भारी संख्या मे निवेशक सड़क पर जनसैलाब के रूप मे उतर पड़े और जादूगोड़ा कालोनी से होते हुए जादूगोड़ा मोड़ चोक तक पहुंची जहां रैली सभा मे बदल गयी  ।

कमल को गिरफ्तार कराये बिना चैन से नहीं बैठेंगे – सासंद

 

सभा मे पहुंचे जमशेदपुर के सांसद विदूत वरन महतो ने जनता को संबोधित करते हुए कहा की जब तक घोटालेबाज कमल सिंह एवं उसके भाई दीपक सिंह को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर लेती है हम चैन से नहीं बैठेंगे एवं इस मामले मे हम जनता के साथ खड़े है एवं मुख्यमंत्री रघुवर दास से भी इस घोटाला के बारे मे बात हुई है एवं उन्होने कहा है की कड़ी से कड़ी कारवाई की जाएगी एवं आगामी बजट सत्रह मे इस मामला को संसद मे उठाएंगे एवं संबन्धित मंत्री को भी इसकी जानकारी दी जाएगी एवं दो दिनो के अंदर जमशेदपुर एसपी से मिलकर स्पेशल टीम बनाने की मांग करेंगे एवं एसपी से कहा जाएगा जब तक इन दोनों की गिरफ्तारी न हो उस टीम मे शामिल पुलिस अधिकारियों को छुट्टी न दी जाये एवं सात दिनो के अंदर रांची भी मुख्यमंत्री के पास निवेशको के साथ जाया जाएगा एवं कारवाई चाहिए आश्वाशन बहुत हुआ एवं घोटाले बाज के साथ जो भी शामिल है उसका पर्दाफाश करवाना है ।

झारखंड उच्च न्यायालय के वरिष्ठ वकील राजीव कुमार जिनहोने कमल के खिलाफ सीबीआई जांच के लिए रिट फाइल किया है ने कहा की उच्च न्यायालय इस मुद्दा मे बहुत गंभीर है और न्यायालय ने निवेशको का तीन ग्रूप बनाने का आदेश दिया है जिसमे छोटे छोटे निवेशको एवं बड़े और उससे बड़े निवेशको का ग्रूप बनाने को कहा गया है एवं न्यायालय द्वारा निवेशको को पैसा वापस दिलाया जाएगा और माननीय मुख्य न्यायाधीश ने कहा है की सहारा की तर्ज़ पर इन घोटालेबाजों को जेल मे रखकर निवेशको का पैसा वापस दिलाया जाएगा और जबतक पैसा वापस नहीं होगा तब तक आरोपी जेल मे रहेगा एवं इस मामले मे जो भी प्रशाशानिक अधिकारी शामिल होंगे या नेता कोई भी कानूनी शिकंजा से बच नहीं पाएगा एवं निवेशको को न्याय जरूर मिलेगा ।पोटका के जिला परिषद सदस्य करुणामय मण्डल ने रैली मे पहुँचकर निवेशको का पूर्ण समर्थन का घोषणा किया एवं सभा मे कहा की मैंने यह मामला 2 साल पहले 30 जनवरी 2013 को थाना मे हुए पुलिस पब्लिक मीटिंग के दौरान भी उठाया था अगर प्रशासन उस समय जागरूक हो जाता तो इतने गरीबो को बरबादी से रोका जा सकता था एवं जिन जिन अधिकारियों ने फीता काटकर इसके उदघाटन कर लोगो के बीच कमल की विश्वशनीयता बढ़ाने का काम किया उनके ऊपर भी कारवाई होनी चाहिए अगर कोई एजेंट निवेशको को धम्की देता है तो हम भी उसका ईंट से ईंट बाजा देंगे एवं राज्यपाल को ज्ञापन देकर इस मामले मे सड़क से सदन तक आवाज को उठाया जाएगा।

 वहीं रैली मे बंगाल से आए भारतीय अन्याय प्रतिवादी संघ के अध्यक्ष अमित अधिकारी ने हुंकार भरते हुए कहा की अगर कमल को गिरफ्तार नहीं होती है तो इस आंदोलन को भारी रूप दिया जाएगा जरूरत पड़ी तो सड़क जाम , झारखंड बंद तक किया जाएगा क्योंकि आंदोलन के बिना कोई जीत हासिल नहीं हुई है ।

वहीं राजकॉम चिटफंड निवेशक संघ की सदस्य सह भाजपा जिला मंत्री ज्योतिका चक्रवर्ती ने एजेंटो के झांसे मे निवेशको को आने से मना किया एवं आगे भी प्रशाशन के खिलाफ आंदोलन तेज़ करने एवं निवेशको को न्याय दिलाने तक चैन से नहीं बैठने की बात कही ।

वहीं रैली को संबोधित करने वालो मे जिला परिसद सदस्य राजू कर्मकार , शुखलाल हेंबरम , मुखिया मालती हेंबरम , सोनू कालिंदी , अशोक विश्वकर्मा ने भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई एवं मंच का संचालन अरविंद वैध ने किया ।

आज हुई रैली कमल के भागने के बाद पहली बार राजकॉम चिटफंड निवेशक संघ के बैनर तले हुई एवं इसमे भारतीय अन्याय प्रतिवादी संघ ने भी अपना योगदान दिया है एवं रैली को लेकर प्रशासन भी सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबन्द किए हुए था एवं रैली मे महिलाओ ने भी भारी संख्या मे भाग लिया एवं एकजुटता दिखाई एवं रैली की सफलता पर निवेशको मे भारी उत्साह देखा गया , रैली को लेकर सुबह से ही भारी संख्या मे लोग जुटने लगे एवं इसमे शामिल अमित कारवा , बी अरुण , एवं निवेशक संघ के सदस्य उपस्थित थे ।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More