राजकॉम चिटफंड घोटाला मे आर-पार की लड़ाई के मन में निवेशक

निवेशको का फूटने लगा है आक्रोश
भूख हड़ताल मे बैठेंगे निवेशक
सवाददाता,जमशेदपुर ,14 दिसबंर
जमशेदपुर के जादूगोड़ा थाना क्षेत्र से करीब 1500 करोड़ की ठगी कर पिछले 14 महीनो से फरार कमल सिंह और उसका भाई दीपक सिंह की गिरफ्तारी और निवेशको का रकम वापसी की मांग को लेकर निवेशक अब आर-पार की लड़ाई के मन बना लिया इसी को लेकर निवेशको के द्वारा राजकॉम चिटफंड निवेशक संघ की गठन किया है , और कमल को गिरफ्तार करने को लेकर जादूगोड़ा के चौक चौराहो पर बैनार पोस्टर लगाए गए है ।
इसी मुद्दे को लेकर राजकॉम चिटफंड निवेशक संघ की बैठक रविवार को यूसिल कालोनी स्थित शिवमंदिर प्रांगण मे हुई इस बैठक मे कमाल के 50 से अधिक निवेशको ने भाग लिया और जादूगोड़ा से लेकर दिल्ली तक किस तरह आंदोलन किया जाएगा इसकी रणनीति बनाई गयी एवं संघ द्वारा यह निर्णय लिया गया की अगर कमल पर जल्द कारवाई और उसे गिरफ्तार कर पूरे कारोबार का खुलासा नहीं किया गया तो निवेशक सड़क पर उतरेंगे और जबर्दस्त धरना प्रदर्शन किया जाएगा ।
अधिक से अधिक निवेशक स्वेक्षा से इस आंदोलन से जुड़ रहे है एवं आंदोलन से जोड़ने के लिए संघ द्वारा सदस्यता अभियान भी चलाया जा रहा है जिसमे भारी संख्या मे निवेशक जुड़ रहे है और अबतक सेकड़ों निवेशक जुड़ चुके है एवं अगली बैठक 28 दिसंबर को सुबह दस बजे जादूगोड़ा सीआईएसएफ़ मैदान मे होगी । बैठक मे लोगो ने कमल को गिरफ्तार करो के नारे भी लगाए ।
क्या कहना है निवेशको का ….
ज्योतिका चक्रवर्ती – ने कहा की किसी भी हाल मे कमल की गिरफ्तारी होनी चाहिए और अगर प्रशासन कमल को गिरफ्तार नहीं करती है तो भारी विरोध प्रदर्शन किया जाएगा और जब बड़े से बड़े मंत्री गिरफतार हो सकते है तो कमल क्यों नहीं ।
पुनिता मुखी – किसी भी हाल मे कमल सिंह का गिरफ्तारी होना चाहिए हम गरीब निवेशको का पैसा वापस मिलना चहिए हमलोगो को इंसाफ चाहिए ।
सुरू सूँडी – इतने बड़े बड़े नेता मंत्री गिरफ्तार हो रहे है जबकि 1800 करोड़ के महाघोटाला के मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है उन्होने कहा की प्रसाशन जल्द से जल्द कमल को गिरफ्तार करे ।
कार्तिक हेंबरम ( सामाजिक कार्यकर्ता ) – छोटे से छोटे घटना मे एमपी – एमएलए आकर सड़क जाम रोड जाम कर देते है पर यह झारखंड का सबसे बड़ा घोटाला होने के बावजूद भी नेताओ की चुप्पी समझ से परे है और प्रशाशन भी क्यों ठोस कदम नहीं उठा रहा है उन्होने कहा की जल्द से जल्द कमल को गिरफ्तार किया जाना चाहिए ।
रवीद्र सिंह – यह चिटफंड घोटाला झारखंड का सबसे बड़ा मुद्दा था लेकिन विधानसभा चुनाव मे किसी भी पार्टी ने इस मुद्दे को नहीं उठाया कमल सिंह द्वारा निवेशको का पैसा डूबा दिये जाने के कारण बहुत से घरो मे लड़कियों की शादी , बच्चो का पढ़ाई , बीमारों का इलाज़ रुक गया है लोग दाने दाने को मोहताज हो गए है अगर प्रशाशन इसपर ठोस कारवाई नहीं करती है तो विवश होकर हमे सड़क पर उतरना पड़ेगा ।
जेके राय – जल्द से जल्द कमल की गिरफ्तारी होनी चाहिए एवं निवेशको का पैसा वापस होना चाहिए वरना धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल किया जाएगा ।
नाथो मांझी – मैंने अपनी पूरी जिंदगी की गाढ़ी कमाई 35 लाख रुपया कमल सिंह को दे दिया हमारे बच्चो की पढ़ाई और घर की अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा गयी है इसी चिंता मे कभी भी हमारी जान जा सकती है और इसके लिए पूरी तरह कमल सिंह जिम्मेदार होगा उन्होने कहा की जल्द से जल्द कमल को गिरफ्तार किया जाए ।
ग्रामीण एस पी
इस संबंध मे ग्रामीण एसपी शेलेन्द्र कुमार सिन्हा ने कहा की प्रसाशन ने कमल सिंह की गिरफ्तारी को लेकर एक टिम बनाई है और उसकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है वह जहां कहीं भी हो उसे जल्द गिरफ्तार किया जाएगा ।
बैठक मे उपस्थित निवेशक …..
जितेंद्र कुमार शर्मा उर्फ पप्पू , जैनारायन साहा , राजनारायन , एसएन प्रसाद , जेएन दास , विजय रजक , प्रकाश सिंह , एफ़सी दास , आरडी सिंह , बाबूलाल राम , अनिल चन्द्र , रवीद्र नाथ सिंह , लालमोहन हेंबरम , बिश्वजित आचार्या , निखिल भकत , एसएन साव , सुषमा हेंबरम , सरस्वती कारवा , पुनिता कारवा , अमित कारवा , सुरू सूँडी , बीएम अरुण , प्रकाश कुमार , गुप्तेश कुमार , टीके राय , नाथो मांझी , कार्तिक हेंबरम , ज्योतिका चक्रवर्ती , सोनू कालिंदी , सत्यनारायन मिस्त्री , सूडान सोरेन , धीरेंद्र नाथ भकत आदि सहित बड़ी संख्या मे निवेशक मोजूद थे ।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More