खेत हमारा बैंक और खलिहान है एटीएम: हेमंत

109

 

उमड़ी भीड़ का दृश्य 

हमें बचाकर रखना है इन्हें

वोट बेचना परिवार बेचने के समान

लूटने की मंशा रखने वालों को नहीं सौंपें झारखंड

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बंदगांव और आदित्यपुर में  की चुनावी सभा को किया संबोधित

संवाददाता,जमशेदपुर ,24 नवम्बर

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि चालीस वर्षों की तपस्या व कई लोगों की कुर्बानी के बाद हमें झारखंड मिला है। इसे वैसे लोगों के हाथों में नहीं दिया जाएगा जो लूटने की मंशा रखते हैं। उन्होंने फिर कहा किभाजपा सीएनटी, एसएनटी एक्ट समाप्त करने का षडयंत्र रच रही है। हम ऐसा होने नहीं देंगे क्योंकि खेत ही हमारा बैंक और खलिहान हमारी एटीएम है। इन्हें हमें बचाकर रखना है। वे सोमवार को बंदगांव के मिशन स्कूल मैदान में झामुमो की चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि झामुमो ने चक्रधरपुर विधानसभा सीट से वैसे प्रत्याशी को मैदान में उतारा है जो हर किसी के दुख-दर्द में साथ रहता है। उसे स्थानीय लोगों का आशीर्वाद प्राप्त है। जनता हडि़या और पैसे लेकर वोट नहीं बेचे। प्रत्याशी नहीं, पार्टी देखकर वोट करें। उन्होंने कहा कि वोट बेचना परिवार बेचने के समान है। आपका एक वोट नौजवानों को रोजगार, बुजुर्गों को पेंशन व मां-बहनों के सम्मान का प्रतीक है। मौके पर चक्रधरपुर के झामुमो प्रत्याशी शशिभूषण सामड, पूर्व विधायक बहादुर उरांव, पूर्व विधायक चुमनू उरांव, पूर्व विधायक हिबर गुडि़या, झामुमो जिलाध्यक्ष भुवनेश्वर महतो,किष्टो सिंह मुंडा, जसफीन हमसाय आदि ने भी अपने विचार रखे।

झामुमो से ही राज्य का विकास: पूर्ति

झाविमो से झामुमो में शामिल होने वाले जोहन पूर्ति ने कहा कि इस राज्य का विकास झामुमो ही कर सकता है। उन्होंने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के कार्यकाल में किये गये कार्यों को देखते हुये लोगों से झामुमो के पक्ष में वोट देने की अपील की।

जिप सदस्य समेत कई हुये झामुमो में शामिल

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के समक्ष सोमवार को बंदगांव में जिप सदस्य मनमोहन गागराई, झाविमो के जोहन पुरती, कांग्रेस के प्रखंड सचिव मंगल सिंह मुंडा, करम सिंह मुंडा, सुवानी हेम्ब्रम, सविता गागराई के अलावा सैकड़ों लोग झामुमो में शामिल हुये। सभी का मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने फूल माला पहनाकर पार्टी में स्वागत किया।

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More