चाईबासा में सांप्रदायिक तनाव, लाठीचार्ज,

46
एक पुलिसकर्मी समेत करीब 10 लोग घायल
शहर में भारी संख्या में सीआरपीएफ और पुलिस के जवान तैनात
चाईबासा ’ संववाददाता
मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मोचीसाई में दो दिन पहले गाय को लेकर हुए विवाद के बाद रविवार की दोपहर में हिन्दूवादी संगठन और मुस्लिम समुदाय के सैकड़ों लोग आमने-सामने आ गए। दोनों पक्षों में हुई झड़प में दो युवक घायल हो गए। इस घटना के बाद माहौल तनावपूर्ण हो गया। माहौल को शांत करने के लिए शाम को फ्लैग मार्च कर रही पुलिस पर भीड़ में से कुछ असामाजिक तत्वों ने पथराव कर दिया। इसमें एक पुलिसकर्मी जख्मी हो गया। भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, जिसमें आधा दर्जन से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए शहर में भारी संख्या में पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों को तैनात कर दिया गया है।
प्रशासनिक अफसर स्थिति को नियंत्रित करने में लगातार जुटे रहे। देर शाम तक डीसी और एसपी घटनास्थल पर मौजूद थे और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहे थे। इस बीच माहौल और न बिगड़े इसके लिए शहर में सीआरपीएफ और जिला पुलिस के करीब 500 जवानों को लगाया गया है। सरायकेला-खरसावां जिले से भी पुलिस के जवानों को बुलाया गया है।
इससे पहले दिन के 2 बजे ही शहर की दुकानें बंद हो गईं, सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। लोगों ने मुफस्सिल थाना के पास चाईबासा-रांची मार्ग को टायर जलाकर जाम कर दिया। मोचीसाई में झड़प में दो युवक गुड़न राम और पवन शर्मा के घायल होने की खबर फैलते ही दोनों पक्षों के लोग मुफस्सिल थाना में जुटने लगे। मारपीट करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे। दोनों पक्षों की भीड़ समय के साथ बढ़ती रही और तनाव भी बढ़ता गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए शीघ्र ही पुलिस और सीआरपीएफ को हस्तक्षेप करना पड़ा। पुलिस ने शांति बहाल करने के लिए एंटी लैंड माइंस व्हीकल और सीआरपीएफ का फ्लैग मार्च कराया गया। घायल पवन शर्मा ने मुफस्सिल थाना में अज्ञात 25 लोगों पर मारपीट का मामला दर्ज कराया है। दर्ज मामले में बताया गया कि रविवार को दिन 11:30 बजे मोचीसाई विश्व हिन्दू परिषद की बैठक की सूचना  देने जा रहा था। उसने देखा कि मोचीसाई के मैदान में कुछ लोग गुड़न राम के साथ मारपीट कर रहे थे। वह छुड़ाने गया तो उसके साथ भी मारपीट की गई।
Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More