एनडीआरएफ ने गृह रक्षा वहिनीं के कार्मिकों को कोरोना वायरस महामारी से बचाव पर दिया प्रशिक्षण

26

कोरोना वायरस महामारी से बचाव विषय पर सोमवार को 9वीं बटालियन एनडीआरएफ के बचावकर्मियों ने आनन्दपुर, बिहटा (पटना) में स्थित केन्द्रीय प्रशिक्षण संस्थान बिहार गृह रक्षा वहिनीं के कार्मिकों को प्रशिक्षित किया तथा उन्हें कोरोना वायरस से बचाव के लिए शपथ दिलाया गया। इस कार्यक्रम में गृह रक्षा वहिनीं के कार्मिकों ने उत्साह के साथ बढ-चढ़कर भाग लिया।

कमान्डेंट विजय सिन्हा ने बताया कि एनडीआरएफ बल मुख्यालय नई दिल्ली के निर्देश पर 9वीं बटालियन एनडीआरएफ द्वारा कोरोना वायरस महामारी से बचाव विषय पर बिहार और झारखण्ड दोनों राज्यों में जन-जागरूकता अभियान बड़े पैमाने पर प्रतिदिन चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत सोमवार को एनडीआरएफ के कार्मिकों ने पटना सिटी में, सारण जिलान्तर्गत अमनौर प्रखण्ड में, सुपौल जिलान्तर्गत पिपरा प्रखण्ड में तथा आनन्दपुर (बिहटा) में स्थित बिहार गृह रक्षा वहिनीं प्रशिक्षण संस्थान में कोरोना से बचाव के प्रति लोगों को जागरूक किया गया तथा उन्हें कोरोना महामारी से बचाव हेतु शपथ भी दिलाया गया।

कमान्डेंट विजय सिन्हा आगे बताया कि कोरोना वायरस महामारी का खतरा अभी टला नहीं है और अभी तक इस महामारी की कोई दवा उपलब्ध नहीं है। अतः जागरूकता और परहेज ही कोरोना वायरस महामारी से बचाव है। कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए समाज के सभी लोगों को ईमानदारी और जिम्मेदारी के साथ सार्थक पहल करने की जरूरत है। इस महामारी में मास्क एक सुरक्षा कवच के समान है। मास्क का इस्तेमाल जरूर करें। साथ ही इससे सम्बंधित अन्य सुरक्षात्मक उपायों और प्रोटोकॉल का भी हमें सख्ती से पालन करना करना चाहिए।

एनडीआरएफ द्वारा झारखण्ड राज्य के राजधानी राँची और बाबा बैजनाथ धाम नगरी देवघर में भी कोविड-19 के महत्वपूर्ण जानकारियों से स्थानीय लोगों को जागरूक किया गया तथा उपस्थित लोगों को कोरोना वायरस के सुरक्षात्मक उपायों को पालन करने के लिए शपथ दिलाया गया।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More