मौत को दावत देता राखा माइंस का ओवरब्रिज डीआरएम ने दिया निर्माण का भरोसा

37

 

संतोष अग्रवाल,जमशेदपुर,31 मई

जादूगोड़ा यूरेनियम नगरी का एक मात्र रेलवे स्टेशन राखा माइन्स स्टेशन पर यात्रियो के सुविधा के लिए बना ओवरब्रिज अपने जर्जर अवस्था के कारण कभी भी बड़ा हादसा का कारण बन सकता है और जानलेवा साबित हो सकता है , यह ओवर ब्रिज इतना जर्जर है की लोग इसके ऊपर से पार होने के बजाय जान जोखिम मे डालकर रेलवे ट्रेक पार करने मे ही अपनी भलाई समझते है । इसी कारण रेलवे ट्रेक पार करते समय इस रेलवे स्टेशन मे कई दुर्घटनाए हो चुकी है और कई लोगो की जान भी जा चुकी है ।

झारखंड आंदोलनकारी सह सामाजिक कार्यकर्ता मोहन दास ने बताया की राखा माइंस ओवर ब्रिज का काम काफी घटियां स्तर पर हुआ है बालू एवं सीमेंट मे कोई फर्क महसूस नहीं हो रहा था एवं इसकी वर्तमान स्थिति इतनी जर्जर है की कभी भी बड़ी दुर्घटना घाट सकती है एवं जानलेवा साबित हो सकती है ।

वहीं यात्री सुसेन मुरमु ने बताया की इस ओवर ब्रिज से आना जाना काफी खतरनाक है कभी भी धोखा हो सकता है पूरा ओवर ब्रिज हिलता है ।

वही रेल आंदोलनकारी सोनू कालिंदी ने कहा की यह ओवर ब्रिज काफी जर्जर अवस्था मे है अगर रेलवे द्वारा जल्द से जल्द इसका मरम्मती नहीं कराया जाता है तो मजबूरन हमे आंदोलन करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा ।

वहीं खड़गपुर डिवीजन के डीआरएम को जब जर्जर रेलवे ओवर ब्रिज की स्थिति से अवगत कराया गया तो उन्होने इसपर बहुत जल्द निर्माण का भरोसा दिलाया ।

 

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More