हवाला से पैसा आने का अभी नहीं मिला सबूत ,जांच ह¨गी: एसएसपी

संवाददाता,रांची,29 अगस्त

राष्ट्रीय निशानेबाज तारा शाहदेव क¨ प्रताड़ित करने अ©र जबरन धर्म परिवत्र्तन कराने के आर¨प में गिरफ्तार रंजीत सिंह क¨हली उर्फ रकीबुल हसन के पास हवाला के माध्यम से पैसा आने की शिकायत¨ं की जांच की जाएगी। रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि अभी तक पुलिसिया जांच में रंजीत के पास हवाला के माध्यम से पैसा आने का क¨ई सबूत नहीं मिला है, हालांकि इस बिन्दू पर भी पुलिस अन्य एजेंसिय¨ं के सहय¨ग से जांच करेंगी। उन्ह¨ंने बताया कि दिल्ली से गिरफ्तार कर रांची लाये जाने के बाद रंजीत उर्फ रकीबुल से पुलिस ने पूछताछ की है। एसएसपी ने यह भी बताया कि रंजीत ने यह स्वीकार किया है कि मामले में तारा की अ¨र से प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद उसकी मां बिहार के शेरघाटी के एक न्यायिक दंडाधिकारी के साथ यहां से रवाना हुई। प्रभात कुमार ने कहा कि चाहे हाई प्र¨फाइल ल¨ग ह¨ या फिर ल¨-प्र¨फाइल ल¨ग, पुलिस कानून के तहत काम करेगी। उन्ह¨ंने यह भी साफ कहा कि जांच के द©रान अभी तक पुलिस पर क¨ई ऊपरी दबाव नहीं आया है। एसएसपी ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में रंजीत सिंह क¨हली ने खुद क¨ हिन्दू ही बताया है, हालांकि उसने हाल के कुछ वर्षाें में मुस्लिम धर्म के प्रति झुकाव की बात भी स्वीकार की है। उन्ह¨ंने बताया कि रंजीत ने पुलिस के समक्ष यह स्वीकार किया है कि उसका अपने एनजीअ¨ के काम के सिलसिले में कई हाई-प्र¨फाइल ल¨ग¨ं से संपर्क है, लेकिन तारा शाहदेव की सहमति द¨न¨ं परिवार¨ं के आपसी रजामंदी से हुई है। रंजीत ने पुलिस क¨ यह भी बताया कि विवाह से पूर्व ही द¨न¨ं परिवार¨ं में यह सहमति बनी थी कि शादी हिन्दू अ©र मुस्लिम रीति-रिवाज द¨न¨ं से ह¨गी। रंजीत ने यह भी स्वीकार किया कि वह विभिन्न धर्माें के बारे में अध्ययन करता रहा है अ©र व्यक्तिगत रुप से वह इस्लाम धर्म से प्रभावित है, लेकिन मां हिन्दू ही है। उसने बताया कि पिछले एक वर्ष से वह शाम के वक्त नमाज भी पढ़ता है। एसएसपी ने बताया कि रंजीत के पास से ज¨ पासप¨र्ट, ड्राइविंग लाईसेंस व अन्य प्रमाण पत्र्ा मिलें है,उसके अनुसार वह हिन्दू ही है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More