आर0 वी0 एस0 कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में सालाना स्पोट्र्स मीट शुरू

79

विद्याध्ययन पर पकड़ बनानी है तो सेहतमंद रहें: जय कुमार

संवाददाता.जमशेदपुर 19 दिसंबर:

अच्छी पढ़ाई और बेहतरीन परीक्षा परिणाम के लिए आवश्यक शर्तों में से एक है- स्वस्थ और सुगठित शरीर। इसलिए विद्यार्थियों को विद्या अध्ययन पर पकड़ बनानी है तो सेहत भी अच्छी रखनी होगी। विद्यार्थी खेल और मनोरंजन के दूसरे माध्यमों से आनंदित रहें, लेकिन मुख्य फोकस पढ़ाई पर हो। मुख्य अतिथि कोल्हान के भविष्य निधि आयुक्त जय कुमार ने आज यहाँ आर0 वी0 एस0 कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी के सालाना खेलकूद महोत्सव फ्रॉलिक-2014 के उद्घाटन पर उक्त सलाह छात्र-छात्राओं को दी। श्री कुमार ने आज कॉलेज मैदान में चार-दिवसीय सालाना स्पोट्र्स मीट के पहले दिन गुब्बारे उड़ाकर मीट शुरू करने की विधिवत घोषणा की। श्री कुमार ने इतिहास के उद्धरण देते हुए बताया कि टेक्नोलाॅजी के क्षेत्र में प्राचीन काल से लेकर आधुनिक काल तक भारत अग्रणी राष्ट्रों में रहा है। झारखं डमें तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में आर0 वी0 एस0 कॉलेज को आगे बढ़ने की शुभकामनाएँ देते हुए श्री कुमार ने छात्र-छात्राओं को तीन मुख्य बातें बतायी-पहला अपने माता पिता का सम्मान, दूसरा पारवारिक एवं आधुनिक माहौल के बीच संतुलन एवं तीसरा, पेशेवर जीवन में सफल होने के बाद समाज के जरूरतमंद तबके के लिए यथोचित योगदान।

उद्घाटन समारोह के मानद अतिथि पूर्व राष्ट्रीय हैंडबॉल खिलाड़ी एवं मौजूदा राष्ट्रीय हैडबॉल कोच हसन इमाम ने कहा कि विकास के कई मानकों पर पिछड़ा झारखंड राज्य राष्ट्रीय स्तर पर अपनी अगर कोई हैसियत रखता है तो वह खेलों की वजह से है। टीम इंडिया के कप्तान और एक खिलाड़ी धोनी ने झारखंड की राष्ट्रीय मानचित्र पर सबसे मजबूती से स्थापित किया है।

आर0 वी0 एस0 एजुकेशनल ट्रष्ट के सचिव  भरत सिंह ने कहा कि आर0 वी0 एस0 संस्थान इंजीनियर्स बनाने के साथ-साथ छात्रों को एक संस्कारी और मूल्यवान नागरिक के रूप  में गढ़ने के सिद्धांत पर चलता है। उदघाटन सत्र में आर0 वी0 एस0 ट्रस्ट के चेयरमैन श्री बिंदा सिंह, कार्यकारी सदस्य श्री शक्ति सिंह, कॉलेज के निदेशक प्रो0 (डाॅ0) एम0 पी0 सिंह, डाॅ0 राजेश तिवारी, प्रो0 अरूण कुमार, डाॅ0 सुब्रत महतो, प्रो0 संजीव श्रीवास्तव समेत सभी विभागाध्यक्ष, फैकल्टी मेम्बर्स, स्टाफ एवं बड़ी संख्या में दर्शक उपस्थित थे। उद्धाटन सत्र का संचालन डाॅ0 सुधीर झा ने किया।

उल्लेखनीय है कि फ्रॉलिक स्पोट्र्स मीट में कॉलेज की छह इंजीनियरिंग शाखाओं की छह टीमें हिस्सा ले रही हैं टाॅर्क हाउस (मेकैनिकल इंजीनियरिंग), पावर हाउस (इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग), काॅक्रीटो हाउस (सिविल इंजीनियरिंग), स्टीलेनियम हाउस (मेटलर्जी इंजीनियरिंग), सिलिकाॅन हाउस (इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग) एवं लाॅजिक हाउस (कम्प्यूटर साइंस एण्ड इंजीनियरिंग)।

 

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More