आईएसएल-6 : केरला के खिलाफ एटीके के पास हासिल करने के लिए बहुत कुछ

कोलकाता, 11 जनवरी । दो बार की चैंपियन एटीके रविवार को यहां विवेकानंद युवा भारती क्रीड़ांगन में हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन में केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ होने वाले मैच के लिए पूरी तरह से तैयार है।

एटीके और दो बार की उपविजेता केरला के बीच आईएसएल में शानदार इतिहास रहा है और दोनों बार एटीके खिताब जीतने में सफल रही है। केरला की टीम हालांकि एटीके के खिलाफ पिछले पांच मैचों से अजेय चल रही है। लेकिन एटीके इस बार इस गतिरोध को तोड़ना चाहेगी। केरला इस सीजन के उद्घाटन मैच में भी एटीके को 2-1 से हरा चुकी है।

केरला ब्लास्टर्स के कोच एल्को स्काटोरी ने कहा, ‘‘उद्घाटन मैच में ना वे हमारे बारे में कुछ जानते थे और ना हम उनके बारे में। इस मैच में मुझे उनकी कमजोरियों के बारे में पता है। मेरे पास एक अच्छा प्लान है। हम कभी एटीके के खिलाफ कभी नहीं हारे हैं, इसलिए हमें एक और जीत की उम्मीद है।’’

रॉस कृष्णा और डेविड विलियम्स के दम पर इस सीजन में एटीके का प्रदर्शन अब तक बेहद शानदार रहा है। टीम ने 11 मैचों में अब तक 21 गोल किए हैं। वहीं, कृष्णा और एटीके मिलकर 13 गोल कर चुके हैं। विलियम्स का इस मैच में हालांकि खेलना तय नहीं है क्योंकि वे चोटिल हैं।

एटीके के कोच एंटोनिया हबास ने कहा, ‘‘हमें नहीं पता कि विलियम्स खेलेंगे या नहीं। हम मैच से पहले इसका फैसला करेंगे। लेकिन मेरा मानना है कि फुटबाल व्यक्तिगत खिलाड़ी पर निर्भर नहीं है।’’

उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘मैं भारतीय खिलाड़ियों की परिपूर्णता को समझता हंू। हमारे पास अच्छे भारतीय खिलाड़ी हैं। हमारे लिए यह आसान है। प्रीतम कोटाल, अरिंदम भट्टाचार्य और प्रबीर सभी अच्छे खिलाड़ी हैं। सुमित भी टॉप खिलाड़ी हैं। वह एक अच्छे डिफेंडर हैं और उन्हें राष्ट्रीय टीम में होना चाहिए।’’

एटीके 11 मैचों में 21 अंक लेकर अंकतालिका में तीसरे स्थान पर है और एक जीत उसे टॉप पर कामय एफसी गोवा के बराबर पहुंचा देगा, जिसके 24 अंक है। केरला ब्लास्टर्स 11 मैचों में 11 अंकों के साथ आठवें नंबर पर है और एक जीत उसे छठे नंबर पर पहुंचा सकता है।

केरला ब्लास्टर्स के लिए राफेल मेसी बाउली और बार्थोलोमेव ओग्बेचे अब तक मिलकर 11 गोल कर चुके हैं। खिलाड़ियों के चोटिल होने के कारण हालांकि उनका डिफेंस मजबूत नहीं है और टीम ने 11 मैचों में केवल दो जीत दर्ज की है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More