हैदराबाद, 29 नवंबर। रोबिन सिंह के इंजुरी टाइम में किए गोल  की मदद से मेजबान हैदराबाद एफसी ने शुक्रवार को यहां जीएमसी बालायोगी एथलेटिक स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन के मैच में मौजूदा चैंपियन बेंगलुरू एफसी को 1-1 से ड्रॉ पर रोक दिया।

कप्तान सुनील छेत्री ने दूसरे मिनट में ही गोल करके बेंगलुरू को 1-0 की बढ़त दिला दी थी, लेकिन रोबिन ने इंजुरी टाइम में गोल करके हैदराबाद को 1-1 से बराबरी दिला दी और मैच ड्रॉ  करा दिया।

बेंगलुरू की छह मैचों में यह चौथा ड्रॉ है और उसके 10 अंक हो गए है। बेंगलुरू अब अंकतालिका में दूसरे नंबर पहुंच गई है। वहीं, हैदराबाद की छह मैचों में यह पहला ड्रॉ है और वह चार अंकों के साथ सबसे नीचे है।

बेंगलुरू ने आक्रामक शुरूआत की और दूसरे मिनट में ही गोल करके 1-0 की बढ़त बना ली। बेंगलुरू के लिए यह गोल कप्तान सुनील छेत्री ने दागा। छेत्री का पिछले तीन मैचों में यह लगातार तीसरा गोल है।

बेंगलुरू को यह गोल हैदराबाद के खिलाड़ी गुरतेज सिंह के गलत पास पर मिला। गुरतेज गेंद को गलत पास कर बैठे, जिसपर कि छेत्री ने इसे अपने कब्जे में लेकर नेट में पहुंचाने में काई गलती नहीं की।

मैच में 1-0 की बढ़त लेने के बाद बेंगलुरू के खिलाड़ियों का आत्मविश्वास काफी बढ़ गया और उसने इस बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ अपना आक्रमण जारी रखा।

मेहमान टीम इसके बाद छठे और 13वें मिनट में अपनी बढ़त को दोगुना करने से चूक गई। छठे मिनट में राफेल अगस्तो गेंद को गोल पोस्ट के साइड मार बैठे जबकि 13वें मिनट में बेंगलुरू को पेनाल्टी नहीं मिली।

बेंगलुरू के हरमनजोत खाबड़ा के शॉट को रोकने के प्रयास में हैदराबाद के साहिल पंवार अपना हाथ लगा बैठे। रेफरी ने इस पर पेनाल्टी नहीं दिया, जिससे कि कप्तान छेत्री काफी नाखुश नजर आए। मैच के 21वें मिनट में मोहम्मद यासिर को जबकि 37वें मिनट में बेंगलुरू के अल्बर्ट फेरान को पीला कार्ड दिखाया गया।

इसके बाद बेंगलुरू ने कुछ और मौके बनाए, लेकिन वह अपनी बढ़त को दोगुना नहीं कर सका और मैच का पहला हाफ 1-0 से बेंगलुरू के पक्ष में रहा। पहले हाफ के अंदर मौजूदा चैंपियन बेंगलुरू ने 11 शॉट टारगेट पर लगाए जबकि मेजबान हैदराबाद मात्र दो शॉट ही टारगेट पर लगा पाई।

दूसरे हाफ में 52वें मिनट में हैदराबाद के पास बराबरी का मौका था, लेकिन स्पेनिश खिलाड़ी राफेल लोपेज गेंद को नेट से उपर से मार बैठे। 56वें मिनट में जाकर हैदराबाद को एक बड़ा झटका लगा उसके डिफेंडर साहिल पंवार को रेड कार्ड थमा दिया गया।

पंवार को उदांता सिंह को गलत तरीके से गिराने के कारण रेड कार्ड दिया गया। इसके बाद पंवार को मैदान से बाहर जाना पड़ा और हैदराबाद को अपने 10 खिलाड़ियों के साथ खेल आगे जारी रखने के लिए मजबूर होना पड़ा।

हैदराबाद को और ज्यादा दबाव में देख बेंगलुरू ने अपना आक्रमण और तेज कर दिया। मेहमान टीम हालांकि इन आक्रमणों को गोल में तब्दील नहीं कर पा रही थी। 80वें मिनट में बेंगलुरू ने अपनी बढ़त को लगभग दोगुना ही कर लिया था कि तभी गुरतेज सिंह ने एक बार फिर उदांता के शॉट को ब्लॉक कर दिया।

इसके बाद निर्धारित समय तक भी गोल नहीं होने के बाद मुकाबला इंजुरी टाइम में चला गया। अपने 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रही हैदराबाद ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी और मेजबान टीम को इसका फायदा भी मिला।

रोबिन ने गेंद को शानदारी तरीके से अपने कब्जे में लेकर इसे गोल पोस्ट में डाल दिया। रोबिन के इस गोल पर स्टेडियम में मौजूद करीब 8000 दर्शक झूम उठे और हैदराबाद लगातार तीसरी हार से बच गया।