टाटा स्टील ने शिक्षकों के लिए परामर्श कौशल पर क्षमता निर्माण कार्यक्रम की शुरुआत की

82

संवाददाता,जमशेदपुर,3 मई
जमशेदपुर में किशोरों में आत्महत्या की बढ़ती दर इस शहर के नागरिकों के लिए चिंता का विषय बन गया है। टाटा स्टील की ओर से, श्रीमती रुचि नरेन्द्रन, चेयरपर्सन, सेफ और एसोसिएशन आॅफ सेक्रेड हार्ट एल्युमिनी (आशा) ने इस महत्वपूर्ण मुद्दे के प्रति लोगों को जागरुक करने हेतु एक अभियान की शुरुआत की है, जिसकी शुरुआत आज सेंटर फॉर ऐक्सेलेंस में आयोजित कार्यशाला के साथ हुई। कार्यशाला का उद्घाटन श्री सुनील भास्करन, वीपी, काॅर्पोरेट सर्विसेज ने किया।
इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का मकसद शिक्षकों में परामर्श कौशल क्षमता का संवर्धन कर उन्हें सशक्त बनाना है ताकि वे अपने संबंधित स्कूलों में किशोरावस्था से संबंधित मुद्दों को कारगर तरीके से सुलझा सके। इससे वे अपने स्कूल के अन्य शिक्षकों को भी कक्षा में छात्रों में परिलक्षित हो रहे तनाव के प्रारंभिक चेतावनी संकेतों को समझने में सक्षम बना सकेंगे साथ ही उनके अभिभावकों को भी जागरुक कर पायेंगे।
आशा के माध्यम से किये गये एक बेहद विस्तृत मनोविश्लेषणात्मक परीक्षण के आधार पर शहर के 24 स्कूलों से 40 उम्मीदवारों का चयन इस प्रशिक्षण के लिए किया गया है जिसकी शुरुआत 3 मई, 2014 को हुई और यह 4 मई, 2014 तक चलेगा। यह प्रशिक्षण “उम्मीद, एक सकारात्मक जीवन जीने की पहल” द्वारा प्रदान किया जायेगा। “उम्मीद” पूर्वी क्षेत्र में एक अग्रणी संगठन है जो शिक्षकों की क्षमता निर्माण के क्षेत्र में व्यापक कार्य कर रहा है साथ ही बंगाल, यू.पी, ओडिशा और झारखंड के स्कूलों के छात्रों एवं उनके अभिभावकों को परामर्श सेवाएं प्रदान कर रहा है। उम्मीद अपने पेशेवरों की टीम के साथ कार्यशाला प्रारूप में 65-70 घंटे का प्रशिक्षण प्रदान करेगा जिसमें 5 केस स्टडीज और विस्तृत निगरानी उपायों, निभायी जाने वाली भूमिकाओं और अनुभवात्मक शिक्षण शामिल होंगे। प्रशिक्षण को 6 माॅड्यूल्स में बांटा गया है।
प्रशिक्षण के अंत में, शिक्षकों को मौखिक और लिखित मूल्यांकन से गुजरना होगा। कुछ व्यावहारिक अनुभवों के बाद, उन्हें प्रशिक्षकों द्वारा अपने कौशल को और निखारने के संबंध में फीडबैक और मार्गदर्शन दिये जायेंगे। इस कार्यक्रम से “जीवन-जरूरतमंदों के लिए हेल्पलाइन सेवा“ और आशा, के द्वारा किये जा रहे प्रयासों को बल मिलेगा, जिसने एक परामर्श प्रकोष्ठ की स्थापना की है जो सेक्रेड हार्ट स्कूल परिसर में कार्यरत है।
कार्यक्रम के दौरान श्रीमती रुचि नरेन्द्रन, और डाॅ दीपाली मिश्रा, प्रेसिडेंट आशा सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More