सरायकेला- टायो कंपनी बंद करने से आक्रोशित महिलाओं ने गेट जाम कर किया रोषपूर्ण प्रदर्शन

40

गम्हरिया
—–
टायो कंपनी के बन्द किए जाने की खबर से आक्रोशित कंपनी कर्मचारी के पत्नियों द्वारा शुक्रवार को कंपनी गेट जाम कर रोषपूर्ण प्रदर्शन किया गया। प्रातः छह बजे से ही महिलाएँ अपने बच्चों के साथ कंपनी गेट पर पहुँचकर गेट जाम करने लगी। इस दौरान महिलाओं द्वारा प्रबंधन विरोधी नारे भी लगाए गए। महिलाओं ने बताया कि प्रबंधन द्वारा एक साजिश के तहत कंपनी को बंद कर रही है जिसे किसी कीमत पर सफल होने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि विगत कई बर्षों से उनके पति टायो कंपनी में कार्यरत हैं जिनपर उनका परिवार समेत कई बूढ़े माता-पिता आश्रित हैं। वर्तमान में कई कर्मचारियों की उम्र 40-45 वर्ष हो चुकी है। ऐसे में उन्हें अन्य किसी कंपनी में रोजगार भी मिल पाना संभव नहीं है। यदि कंपनी बंद होती है तो प्रबंधन द्वारा चिकित्सा सुविधा भी बंद किए जाने की घोषणा की गई है। ऐसे में उनके समक्ष गंभीर संकट उत्पन्न हो जाएगी। महिलाओं ने युनियन पदाधिकारियों पर भी प्रबंधन के साथ मिलीभगत होने का आरोप लगाया। कहा कि यूनियन नेताओं ने भी प्रबंधन से मिलकर कंपनी बंद करने की साजिश रचा है। इसके लिए वे आखिरी दम तक आर-पार की लड़ाई जारी रखेंगे। महिलाओं का गुस्सा इस कदर था कि कंपनी गेट पर पहुँचने वाले हर व्यक्ति को वहाँ से भगा दिया जा रहा था। यहाँ तक कि कंपनी से खाली निकल रहे एम्बुलेन्स को भी महिलाओं ने अच्छी तरह जाँच कर बाहर निकलने दिया। कई बार कंपनी गेट पर तैनात सुरक्षाकर्मियों के साथ भी उनकी झड़प् हो गई। इस दौरान टिस्को ग्रॉथ शॉप के कर्मचारियों व ठेकाकर्मियों को भी कंपनी के अन्दर घुसने नहीं दिया गया। इस कारण टीजीएस कंपनी का उत्पादन भी ठप्प रहा। इससे कंपनी को करोड़ों रुपये की क्षति होने की बात बताई गई है। टायो की गृहिणी महिलाओं द्वारा कंपनी गेट पर प्रदर्शन को लेकर जिला प्रशासन की ओर से काफी संख्या में पुरुष व महिला पुलिस बलों को तैनात किया गया था। इस दौरान भाजपा नेता गणेश माहली, आजसू नेता कृष्णा मार्डी, झाविमो नेता सह पूर्व विधायक अरविन्द कुमार सिंह, मजदूर नेता एसएन सिंह समेत विभिन्न पार्टी के कई नेता जामस्थल पर आए और बंद समर्थकों को पूरा सहयोग का आश्वासन दिया। उन्होंने इस बावत प्रबंधन को कोसते हुए सरकार से वार्ता करने का भी आश्वासन दिया। दोपहर बाद कंपनी के एमडी के0 मरार के साथ महिलाओं की वार्ता हुई। उक्त वार्ता में प्रबंधन द्वारा हर हाल में कंपनी बंद करने की बात बताए जाने से महिलाओं ने आन्दोलन तेज करने की घोषणा किया। बताया गया है कि शनिवार तक प्रबंधन कोई ठोस निर्णय नहीं लेती है तो रविवार से गृहणियाँ अनिश्चितकालीन गेट जाम करेंगी।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More