जमशेदपुर –माइंड वार्स का STUDENT के लिए ऑनलाइन जीके ओलिम्पयाड लॉन्च

जमशेदपुर। GK शब्द का सामान्य बुद्धिमता से गहरा नाता है, यह हमारे जीवन में घटित होने वाली चीजों के महत्व के प्रति हमारी समझ को दर्शाता है। ओलिम्पयाड जैसे टेस्ट में हिस्सा लेने पर विद्यार्थी क्विज एवं पजल के माध्यम से सीखते हैं, और इससे वह अपने जीवन में अधिक निर्णायक तथा आत्मविश्वास से परिपूर्ण बन पाते हैं। प्रत्येक माता-पिता की यह इच्छा होती है कि उनके बच्चे चाहे जो भी करें, उसमें वह सफलता हासिल करें और नए मुकाम बनाएं, माइंड वार्स उनकी इसी इच्छा को पूरा करने आया है। माइंड वार्स एक मल्टीप्लेटफॉर्म नॉलेज प्रोग्राम है, इसे जी इंटरटेनमेन्ट इंटरप्राइजेज लिमिटेड ने प्रमोट किया है। यह भारत का सबसे बड़ा ऑनलाइन सामान्य ज्ञान ओलिम्पयाड 2020 है, इसका उद्देश्य है कि एक बेहतर भविष्य के सृजन हेतु विद्यार्थियों की पहचान की जाए। उन्हें प्रोत्साहित किया जाए और उन्हें बढ़ावा दिया जाए। राष्ट्रीय स्तर की चैम्पियनशिप 07 फरवरी 2021 तक चलेगी और यह समग्र भारत के सभी शिक्षा बोर्ड के कक्षा 4 से 12 के विद्यार्थियों के लिए रहेगी। इसमें 20 मिनट की परीक्षा होगी, जिसमें प्रत्येक कक्षा के 5 विषयों में से सुसंगत एवं रोचक सम-सामायिकी के प्रश्न शामिल होंगे। इनका उद्देश्य होगा कि आने वाले वर्षों में विद्यार्थियों की क्षमता एवं वृद्धि को बेहतर बनाया जाए। इसके अलावा इसे पूरे भारत में लगभग 5,000 भारतीय विद्यालयों के प्रधानाचार्यों एवं शिक्षकों के साथ किए गए एक व्यापक सर्वेक्षण से प्राप्त परिणाम के आधार पर सूत्रीकृत किया गया है। विद्यार्थीगण ऑनलाइन ओलिम्पयाड के लिए किसी बाधा के बिना 24 गुणा 7 अभ्यास भी कर सकते हैं, और इसमें उनके पास राष्ट्रीय चैम्पियन के रूप में सम्मान पाने और रु 1 करोड़ का पुरस्कार पाने का अवसर भी रहेगा। ओलिम्पयाड 2020 पर टिप्पणी करते हुए जी इंटरटेनमेन्ट इंटरप्राइजेज लिमिटेड के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उमेश कुमार बंसल ने कहा कि राष्ट्र-स्तरीय जीके ओलिम्पयाड को इस प्रकार से डिजाइन किया गया है ताकि ज्ञान के प्रयोग, तर्कशीलता एवं क्षमता निर्माण को प्रोत्साहित किया जा सके। इससे स्कूल बच्चों को उनकी समस्या-समाधान करने के कौशल को बेहतर बनाने में सहायता के साथ ही साथ समय प्रबन्धन में भी सहायता मिलेगी, और उन्हें आगे अपने कैरियर के लिए तैयारी में एक प्रतिस्पर्धात्मक अनुभव भी प्राप्त होगा।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More