रांची-10 अगस्त के बाद राशन कार्ड मे नाम जोड़ने या हटाने का अधिकार जिला को नही होगा

रंची।

खाद्य सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री सरयू राय ने कहा है कि राज्य में खाद्य सुरक्षा अधिनियम सभी कार्य विभाग द्वारा पूरे कर लिए गए है। राज्य में 2 करोड़ 63 लाख 88 हजार लोगों को खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत आच्छादित कर दिया गया है । 10 अगस्त से नए नाम जोड़ने अथवा हटाने का अधिकार जिला को नहीं होगा बल्कि यह काम विभाग द्वारा राशन कार्ड मैनेजमेंट सिस्टम के तहत किया जाएगा। मंत्री आज प्रोजेक्ट भवन के सभागार में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कई जगहों से शिकायत मिली है की गलत तरीके से लोगों के नाम जोड़े अथवा हटाए गए हैं । अब से इसको देखने का काम राशन कार्ड मैनेजमेंट सिस्टम द्वारा किया जाएगा। जिन लोगों को राशन कार्ड मिल गया है, उन्हें राशन कार्ड राशन और किरासन मिलेगा जबकि जो लोग खाद्य सुरक्षा अधिनियम के दायरे में नहीं आ पाए हैं उनके लिए सफेद कार्ड बनाने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। मंत्री ने बताया कि सफेद कार्ड बनाने के विषय को कैबिनेट के सामने रखा गया था। वहां से इसे वित्त विभाग के अनुमोदन हेतु भेज दिया गया । अब वित्त विभाग का अनुमोदन हो गया है। इस विषय को फिर से कैबिनेट में रखा जाएगा और कैबिनेट की स्वीकृति के बाद जो लोग सफ़ेद कार्ड बनवाने चाहेंगे, उन्हीं का कार्ड बनेगा। पहले यह निर्णय लिया गया था कि जो लोग खाद सुरक्षा के दायरे में नहीं आते, उन सबका सफेद राशन कार्ड बनाया जाएगा। परंतु आब सिर्फ उन्हीं लोगों का राशन कार्ड बनाने का निर्णय लिया गया है, जो सफेद कार्ड बनवाना चाहेंगे। मंत्री ने बताया कि एंड टू एंड कंप्यूटराइजेशन, डाटा एंट्री का काम जैसी जरूरतेन पूरी कर ली गई हैं। राशन सप्लाई चेन मैनेजमेंट के सभी काम अब कंप्यूटर द्वारा किए जाएंगे। मंत्री ने बताया कि गाड़ियों में जीपीएस लगाने के लिए विभाग ने जैप आईटी को टेंडर करने का काम दिया है । इसी तरह इलेक्ट्रॉनिक तराजू की खरीद के लिए भी जैप आईटी को जिम्मा दिया गया है। इसका तकनीकी बिल्कुल चुका है, जबकि वित्तीय प्रस्ताव खुलने वाला है। बायोमेट्रिक सिस्टम के तहत पहले चरण में 8 जिलों में पॉइंट ऑफ़ सेल मशीन के माध्यम से अनाज वितरण अगस्त माह से शुरू हो जाएगा। यह काम तीन चरणों में होना है। 8 जिलों में सितंबर तथा शेष आठ जिलों में अक्टूबर माह से मशीन द्वारा राशन वितरण शुरू हो जाएगा। पहले चरण के 8 जिलों के लिए राशन डीलरों तथा संबंधित लोगों को प्रशिक्षण देने का कार्य शुरु हो गया है। सम्बंधित लोगों को तीन बार प्रशिक्षण दिया जाएगा। मशीन के इस्तेमाल से राशन कार्ड राशन में कम कम वजन मिलने जैसी शिकायतें दूर हो जाएंगी। मंत्री ने विभाग के सभी पदाधिकारियों और कर्मचारियों को एक साल के अंदर यह सारा काम पूरा कर लेने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि अब जनमानस में विभाग की छवि पूरी तरह से बदल जाएगी। मंत्री ने बताया कि चावल दिवस की तिथि में भी फेरबदल किया गया है। अब महीने की 14 , 15, 16 और 24 , 25 , 26 तारीख को चावल दिवस मनाया जाएगा। मंत्री ने कहां कि नियमों का कठोरता से पालन करने की हिदायत दी गई है। सार्वजनिक वितरण का सारा काम मशीन से ही होगा। विभाग से जुड़े अधिकारी टैबलेट और कंप्यूटर के माध्यम से कार्य करेंगे। सिस्टम में खोट निकालने और त्रुटि निकालने का बहाना नहीं चलेगा। उन्होंने बताया हमारी व्यवस्था देश के किसी भी सक्षम राज्य की व्यवस्था से उन्नीस नहीं है, बल्कि बेहतर ही है।
इस मौके पर विभाग के विशेष सचिव रहे रवि रंजन, जिनका तबादला कौशल विकास मिशन में मिशन निदेशक के पद पर हुआ है, उन्हें मंत्री तथा विभाग के अधिकारियों , कर्मचारियों ने विदाई दी।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More