रांची-संताल परगना में अलग महिला बटालियन का गठन किया जायेगा- सी एम

44

राँची
संताल परगना में अलग महिला बटालियन का गठन किया जायेगा। इसका मुख्यालय दुमका में बनाया जायेगा। साथ ही जैप 10 की महिला वाहिनी द्वारा जयपुर में आयोजित प्रतियोगिता में बेहतरीन प्रदर्शन करनेवाली टीम को एक लाख रुपये का पुरस्कार दिया जायेगा। उक्त बातें मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर झारखंड पुलिस द्वारा जैप वन में आयोजित कार्यक्रम में कहीं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे राज्य की महिलाओं में प्रतिभा की कमी नहीं है, जरूरत है उन्हें उभारने की। सरकार महिलाओं के उत्थान और विकास के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए इस वर्ष के बजट में राज्य सरकार ने अलग से जेंडर बजट पेश किया है। महिलाओं के लिए कुल बजट का 43 प्रतिशत हिस्सा खर्च किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर महिला शक्ति कमांडो को भी हरी झंडी दिखायी। इसमें 20 स्कूटी पर हथियार व सुविधा से लैस महिला पुलिसकर्मी महिला अपराध पर विशेष तौर पर नजर रखेंगी। इसके साथ ही महिलाओं के लिए शक्ति एप की शुरुआत भी की। इसकी मदद से भी महिलाएं पुलिस से शिकायत कर सकेंगी। 18 पी0सी0आर0 वाहनों को हरी झंडी दिखायी।
उन्होंने कहा कि राज्य व समाज के विकास में महिलाओं की भागीदारी अहम है। इसे ध्यान में रखते हुए सरकार महिलाओं के और सशक्तिकरण के पक्षधर है। महिलाएं हमारे देश में प्राचीन समय से ही संस्कृति और सामाजिक प्रणाली का हिस्सा हैं। अपने काम के निर्वहन में महिलाएं पुरुषों से किसी भी प्रकार से कम नहीं है। इस अवसर पर 10 वर्षीय अंशुराज को अपहरणकर्Ÿााओं से मुक्त कराने में अहम योगदान देनेवाले पुलिसकर्मी राणावंश नारायण सिंह और दिलीप कुमार बिलुंग को 10-10 हजार रुपये देकर पुरस्कृत किया गया।
कार्यक्रम को पुलिस महानिदेशक श्री डी0के0 पांडेय ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम जैप 10 की महिला बटालियन द्वारा किये जा रहे कार्यों का प्रदर्शन किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी व कर्मी उपस्थित थे।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More