पटना-यूपी पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी 10 नक्सलियो को पकड़ा जिनमे 4 बिहार के

RAJESH 0010002

राजेस तिवारी 

पटना |

यूपी एटीएस ने शनिवार की रात दिल्ली एनसीआर इलाके से दस नक्सलियों को गिरफ्तार किया है | जिनमे चार बिहार के है इनकी गिरफ्तारी के बाद यूपी एटीएस आईजी असीम अरुण ने बताया की ये नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे थे | एनआई से मिली जानकारी के बाद
छापेमारी कर इन्हें गिरफ्तार किया गया गया है | आईजी ने बताया की इनके पास से 6 पिस्टल ,50 कारतूस ,ग्रेनेड ,3 कार ,125 डेटोनेटर्स और दो लैपटॉप के आलावा इनके पास से बम बनाने का सामान भी मिला है | उन्होंने बताया की ये सभी नक्सली किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की साजिस रच रहे थे
ये नक्सली बिहार से नाता तोड़ कर आये थे ,इन्हे लगता था की ज्यादा दिन बिहार में रहे गे तो मारे जाएगे | यहाँ के लोकल अपराधियो से मिलकर वारदात करने के फ़िराक में थे | बिहार से घातक हथियारों का खेप आने वाला था | एटीएम बैंक लूटने के आलावा किडनेपिंग करने की बड़ी प्लानिंग थी | इनकी दो बैंको में डकैती करने की योजना थी | आईजी एटीएस यूपी असीम अरुण ने बताया कि नक्सलियों ने नोएडा को बेस कैंप बनाया था।उन्होंने यहां दो मकान और एक दुकान को किराए पर ले रखा था। अपनी पहचान छुपाने के
लिए ये नक्सवी प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते थे। दीपावली के आसपास किसी बड़ी घटना को अंजाम देना चाहते थे।”एटीएस को आरोपियों के पास से कुछ दस्तावेज और नक्शे भी मिले हैं। इनमें से बिहार
के सासाराम का रहने वाला एक आरोपी कृष्णा कुमार बम बनाने में एक्सपर्ट बताया गया है। बताया जा रहा है कि 5 महीने पहले पकड़े गए 6 नक्सलियों में से एक की बहन भी इसी फ्लैट में रहती थी।सूत्रों के मुताबिक, 3 दिन पहले एटीएस ने यहां रेकी की। इसके बाद एक नक्सलियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। एटीएस कमांडो शाम 7 बजे के करीब नोएडा के हिंडन विहार पहुंचे। यहां कमांडोज ने पहले पकड़े गए नक्सली से गेट खुलवाया। गेट खुलतेही दो नक्सलियों को कमांडो ने पकड़ लिया। इस दौरान तीन आरोपी कार में बैठकर भागने लगे। इन्हें भी घेरकर पकड़ा गया।कुख्यात नक्सलियों के साथ दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा बक्सर काशैलेन्द्र कुमार पुलिस इंसपेक्टर रहे स्व. हीरा प्रसाद राम का पुत्र है। चीनी मिल मोहल्ले में उसका अपना मकान है, जहां वह अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ रहता है। बक्सर पुलिस के पास उसकाकोई आपराधिक रिकार्ड नहीं है।नोएडा के हिंडन से गिरफ्तार नक्सली और बम एक्सपर्ट कृष्णाकुमार बिहार के सासाराम के दरिगांव थानाक्षेत्र के मुरही गांव का रहनेवाला है। कृष्णा कुमार राम
2005 से ही नक्सल गतिविधियों में शामिल था। पुलिस ने बताया कि उसके खिलाफ दरिगांव थाने
में कई मामले दर्ज हैं और वह दो बार जेल भी जा चुका है। उसके पिता शिवबचन राम गांव में ही किराने की दुकान चलाते हैं।सासाराम का ही रहने वाला सुनील यादव भी नोएडा के हिंडन सेगिरफ्तार किया गया है। उसके पिता का नाम गुप्तेश्वर यादव है। वह भी सासाराम के दरिगांव थाना के मुरही गांव का निवासी है। चार साल पहले वह पढ़ने के लिए दिल्ली गया था। पड़ोसियों के अनुसार वह दिल्ली में नौकरी करता है। उन्होंने बताया कि पहले भी सुनील मारपीट की घटनाओको अंजाम देता रहा है। हालांकि उसके खिलाफ थाने में कोई मामला दर्ज नहीं है।शाहाबाद प्रक्षेत्र के डीआईजी मोहम्मद रहमान ने कहा कि नोएडा में गिरफ्तार दस नक्सलियों में से चार बिहार के हैं।तीन शाहाबाद प्रक्षेत्र में पड़ने वाले रोहतास, कैमूर और बक्सर के ही हैं। इन सभी नक्सलियों कोरिमांड पर लेने के लिए संबंधित एसपी को निर्देशित किया गया है। जल्द ही गिरफ्तार नक्सलियों को रिमांड पर लेकर इनसे पूछताछ की जाएगी।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More