भाजपा में विलय नही होगा जेवीएम का – बाबुलाल मराण्डीं

51

 

जमशेदपुर के एमजीएम अस्पताल में भर्ती  झाविमो के पुर्व विधायक अरविंद सिंह से मिले

 

संवाददाता.जमशेदपुर,05 जनवरी

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री सह झारखंड विकास मोर्चा के केन्द्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी यह मानते हैं कि भाजपा में विलय करने का ऑफर मिला है, लेकिन वे ऐसा करेंगे या नहीं इस सवाल को काफी आसानी से टाल जाते हैं. सिर्फ यही कहते हैं कि जनता ने उन्हें सरकार में शामिल होने का नहीं, बल्कि जनता के बीच रहने का जनादेश दिया है. सोमवार को वे पार्टी के पूर्व विधायक अरविंद सिंह की हालचाल जानने एमजीएम अस्पताल आये थे तथा उनसे मुलाकात के बाद स्थानीय सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे. उन्होंने कहा कि भाजपा को सिर्फ तोडऩे में ही मजा आता है. अगर उनसे  भाजपा को इतना ही प्रेम था तो चुनाव पूर्व जिस तरह की तोडफ़ोड़ उनकी पार्टी में किया, यह नहीं करते. भाजपा ने उनकी पार्टी को समाप्त करने की कोई भी कसर नहीं छोड़ी. इसके बावजूद राज्य की 10 प्रतिशत जनता ने उन्हें अपना मत दिया, यह उनके लिये बड़ी उपलब्धि है. श्री मरांडी ने स्वीकारा कि भाजपा के अध्यक्ष अमीत शाह तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात हुई है, उनसे भी उन्होंने यही बात बताई है. इसके बावजूद कैसे इस बात को हवा दी जा रही है, उनकी समझ से परे है.   हमलावरों को भाजपा का संरक्षण बाबूलाल मरांडी ने पूर्व विधायक अरविंद सिंह से मिलने के बावत कहा कि वर्ष 2009 के चुनाव में भी मारपीट हुई थी, जिसमें झाविमो के 4 कार्यकर्ता मारे गये थे. इसबार तो श्री सिंह की हत्या करने की नीयत से योजना बनाकर उनपर हमला किया गया. उनपर हमला करनेवालों को भाजपा नेताओं को संरक्षण प्राप्त है, इसलिये वे जब हत्या में सफल नहीं हुए तो अरविंद के खिलाफ आदिवासी उत्पीडऩ का मामला दर्ज करवा दिया. जिन्होंने मामला दर्ज कराया है, उनके खिलाफ भी कई अपराधिक मामले दर्ज है. इसलिये राज्य सरकार को चाहिये कि पुलिस पदाधिकारियों की टीम बनाकर इसकी जांच कराई जाए कि इसमें कौन-कौन शामिल थे तथा दोषियों को सजा मिले.  मिल गया बहुमत, अब करें विकास श्री मरांडी ने कहा कि भाजपा ने चुनाव पूर्व बहुमत की सरकार आने पर  संपूर्ण विकास का नारा दिया था. अब तो भाजपा को बहुमत मिल गया, इसलिये विकास की बात होनी चाहिये. वैसे राज्य सरकार द्वारा जनता हित में कार्य किये जाने पर पार्टी की ओर से रचनात्मक सहयोग देने वर्ना विरोध जताने की भी बात कही.  ईवीएम की विश्वसनीयता पर जताई शंका इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वसनीयता पर शंका जताते हुए श्री मरांडी ने कहा कि कई विकसित देश अभी भी इसपर पूरा विश्वास नहीं कर पाया है. जापान इसका आविष्कारक है, लेकिन वहां भी इसका प्रयोग नहीं होता है. इसलिये इसमें गड़बड़ी की आशंका है. इसलिये उन्होंने अभय सिंह को पूरे तथ्य के साथ न्यायालय में मामला दर्ज करने की सलाह दी है.  अपनी हार की जल्द करेंगे समीक्षा विधानसभा चुनाव में बाबूलाल मरांडी को दोनों विधानसभा से मिली शिकस्त  पर कहा कि अभीतक वे इसकी समीक्षा नहीं की है. 11 जनवरी से वे उन क्षेत्रों का दौरा भी करेंगे और वहीं इसकी समीक्षा होगी.   जिला कमेटी ने किया स्वागत श्री मरांडी के शहर पहुंचने पर जिला महामंत्री बबुआ सिंह की आगवानी में कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया. इस मौके पर धर्मेन्द्र प्रसाद, सीएच राममूर्ति, नितेश मित्तल, सूर्यकांत झा, रविन्द्र कुम्हार, दिलीप कुमार प्रेम सहित कई कार्यकर्ता मौजूद थे.

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More