जमशेदपुर-सेंट्रल बस चालकों का बकाया एवं बोनस भुगतान इसी सप्ताह : अप्पू तिवारी

 

 

जमशेदपुर।

● वेतन कटौती पर संघ ने जताया आक्रोश
● 48 घण्टे में वापस होगी कटी रकम
● बीते एक वर्ष से बकाया ₹ 2250 भी इसी महीने मिलेंगे
● 10प्रतिशत बोनस की भी मांग रखी गयी

सेंट्रल ट्रांसपोर्ट बस चालक एवं सह-चालक संघ के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार पूर्वाह्न टेल्को स्थित लेबर-ब्यूरो ट्रांसपोर्ट कार्यालय में पहुँचकर प्रबंधन के वरीय अधिकारियों से वार्ता की । चालकों का नेतृत्व संघ के संरक्षक अप्पू तिवारी ने किया जहाँ बस चालक संघ के अध्यक्ष हीरा राज ने प्रबंधन के समक्ष कामगारों का पक्ष रखते हुए उचित समाधान करने की मांग की । इस दौरान बताया गया कि इस महीने कई बस चालकों के वेतन से आधे से ज्यादा रकम काटे जाने की शिकायत पर विरोध प्रकट किया गया । बताया गया कि कई चालकों एवं सह-चालकों ने कंपनी से एडवांस रूपये लिए थें जिसे चार महीनों की क़िस्त में अदा करने की शर्त रखी गयी थी । किंतु मज़दूरों के हक़ और अधिकार के लिए गठित हुई ड्राईवर हीरा राज की अध्यक्षता वाली सेंट्रल ट्रांसपोर्ट बस चालक एवं सह-चालक संघ के अस्तित्व में आते हीं परेशान विपक्षी यूनियन के दबाव में प्रबंधन के लोगों ने भेदभाव करते हुए कई चालकों के वेतन की लगभग आधी रकम काट ली । इस बात की जानकारी मज़दूरों ने संघ के वरीय सदस्यों को दी जिसके पश्चात आज प्रबंधन के मोहम्मद इबरार एवं मोहम्मद अख़्तर से वार्ता के क्रम में यह तय हुए की सभी कामगारों के काटे गए रकम 48 घण्टों के भीतर उनके बैंक अकाउंट में वापस कर दिए जायेंगे । इस दौरान संघ ने इस वर्ष बोनस में इज़ाफ़ा करते हुए इसे 10प्रतिशत से ज्यादा करने की माँग रखी है ।

इस दौरान बस चालक संघ के अध्यक्ष हीरा राज ने यह भी आरोप लगाया कि मैनेजमेंट के लोग कुछ ट्रांसपोर्ट कर्मी एवं बाहरी नेताओं के दबाव में मज़दूरों को चिन्हित कर उन्हें प्रताड़ित कर रहे हैं। मज़दूरों के हित और लाभ की बात करने वालों के वेतन कटवाये जा रहे हैं , जो निंदनीय है । उन्होंने यह भी कहा कि मज़दूरों के हक़-अधिकार के प्रलोभन देकर चुपके से फर्ज़ी यूनियन गठित कर के कुछ लोग पूंजीपति बन रहे हैं और ड्राईवर-हेल्पर के समस्याओं से अनभिज्ञ हैं । ऐसे लोग केवल यूनियन के आड़ में अपनी हित साधने में जुटे हैं । समय रहते सेंट्रल ट्रांसपोर्ट प्रबंधन और मज़दूरों को इस बात को समझने की ज़रूरत है ।

इस दौरान संरक्षक अप्पू तिवारी ने प्रबंधन के लोगों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि भविष्य में यदि किसी बस चालक का वेतन कटौती अथवा किसी प्रकार से प्रताड़ित किया गया तो मज़दूर हित में हम उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे । उन्होंने यथाशीघ्र सभी के बकाया भुगतान करने और कामगारों को पूजा के मद्देनज़र पिछले वर्ष से ज्यादा बोनस राशि भुगतान करने की भी चेतावनी दी । उन्होंने वार्ता के दौरान बीते एक वर्ष से अबतक कामगारों के बकाया 2250 रूपये के भुगतान में हुई विलंब पर भी कड़ा विरोध दर्ज किया गया । इस मामले में प्रबंधन के लोगों ने आश्वस्त किया कि सितंबर महीने में इस राशि का भुगतान कर दिया जायेगा । इसके लिए ट्रांसपोर्ट संचालक एवं उच्चस्थ प्रबंधन को आग्रह किया जा चुका है । मौके पर पंद्रह से ज्यादा चालकों और हेल्परों के शिकायत का समाधान कराते हुए उन्हें उचित आश्वासन भी दिया गया । इस वार्ता के दौरान मुख्य रूप से सेंट्रल ट्रांसपोर्ट प्रबंधन के मोहम्मद अख़्तर एवं मोहम्मद इबरार के अलावे संघ के प्रतिनिधिमंडल में संरक्षक अप्पू तिवारी , अंकित आनंद , विजय सिंह , सत्यम पांडेय , अध्यक्ष हीरा राज , गुरदीप सिंह , रामकेश्वर ओझा , सोनू कुमार , नीरज सिंह , संजीत साहू , मुकेश दुबे , जयदेव बेरा , शाहनवाज़ आलम , शमशेर , अभिषेक श्रीवास्तव , राजन पांडेय , एमडी कुद्दुस , अमित चंद्राकर , अभिषेक कुमार , संजय कुमार , राजन पांडेय , निखिल सिंह , अभिषेक कुमार , सोनू कुमार , संतोष कुमार , बी.मुखर्जी , के अलावे काफ़ी संख्या में बस चालक एवं सह-चालक मौजूद थें ।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More