जमशेदपुर-स्वच्छ सर्वेक्षण 2017: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सम्मिलित हुए जिले के पदाधिकारी

10

 

 

केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा असली तरक्की अभियान तथा स्वच्छता हेल्पलाईन 1969 शुरू

जमशेदपुर।

केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण 2017 को लेकर सभी शहरों के पदाधिकारियों को वीडियो काॅन्फ्रंेसिंग के जरिए जानकारी एवं मार्गदर्शन देते हुए आगामी सर्वेक्षण में बेहतर प्रदर्शन के लिए अभिप्रेरित किया गया। पूर्वी सिंहभूम समाहरणालय में भी  उपायुक्त  अमित कुमार अपने सम्बंधित पदाधिकारियों के साथ उक्त कार्यक्रम में वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के जरिए मौजूद रहे। सुबह 11 बजे से नई दिल्ली मीडिया केन्द्र द्वारा उपरोक्त का प्रसारण राष्ट्रीय स्तर पर किया गया। जिसकी औपचारिक शुरूआत केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय के सचिव  राजीव गौवा के परिचयात्मक उद्बोधन से हुआ। पिछले वर्ष उक्त सर्वेक्षण में अव्वल रहे मैसूर की कलेक्टर ने अपने अनुभव साझा किए तो दूसरी ओर धनबाद के मेयर एवं पदाधिकारियों ने पिछले छः माह में स्वच्छता के लिए किए गए प्रयासों को रखा। यद्यपि वीडियो काॅन्फं्रेसिंग में जमशेदपुर सहित किसी अन्य जिले की बारी नहीं आयी किन्तु उपायुक्त एवं उनकी टीम ने आॅनलाईन मिल रहे आवश्यक निर्देशों को ध्यान पूर्वक सुना। उल्लेखनीय है कि 4 जनवरी 2017 से 4 फरवरी 2017 तक उक्त सर्वेक्षण एवं विश्लेषण कार्य के बाद 15 फरवरी 2017 को देश के 500 शहरों को स्वच्छता के आधार पर रेंकिंग प्रदान की जाएगी। आज की इस कार्यक्रम के दौरान स्वच्छता हेल्पलाईन 1969 (टाॅल फ्री) तथा ’’असली तरक्की अभियान’’ की शुरूआत केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा की गई।

समाहरणालय के वीडियो काॅन्फ्रंेसिंग कक्ष में उपायुक्त के अलावा परीक्ष्यमान आई0ए0एस0 श्री अनन्य मित्तल, दोनों अधिसूचित क्षेत्रों के विशेष पदाधिकारी, दोनों क्षेत्रों के सिटी मेनेजर, सिविल सर्जन, जन सम्पर्क पदाधिकारी व जिला शिक्षा अधीक्षक के अलावा टाटा मोटर्स, जुस्को के प्रतिनिधि मौजूद थे।

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More