29 को होगी जीण माता के भजनों की अमृत वर्षा

जमशेदपुर।

श्री जीण माता का भव्य अष्टम महोत्सव को सफल बनाने के लिए हुई बैठक में कई लोगों को विभिन्न कार्यक्रमों का प्रभारी बनाकर जिम्मेदारी सौंपी गयी। बैठक आज जीण माता परिवार के साकची कार्यालय में अध्यक्ष बजरंग लाल अग्रवाल की अध्यक्षता में संपन्न हुई। साकची स्थित अग्रसेन भवन में 29 मार्च शनिवार को अष्ठम जीण माता का भव्य महोत्सव का आयोजन होगा।
जीण माता परिवार के संस्थापक महाबीर मुनका और शंभू खन्ना ने बैठक में जानकारी दी कि इस धर्मिक कार्यक्रम में भजनों की अमृत वर्षा करने के लिए कोलकाता के प्रसिद्ध कलाकार रामाअवतार अग्रवाल, नीरज ढंढानिया और विकास कपूर आयेंगे। कोलकाता के ही देवजीत मुखर्जी एंड टीम द्वारा नृत्य नाटिका की प्रस्तुति की जायेगी। उन्होंने बताया कि कलाकारों के साथ साज पर गणेश चैरसिया एंड ग्रुप कोलकाता रहेगा।
इस धार्मिक महोत्सव का मुख्य आकर्षण सुबह में शोभा यात्रा, दोपहर में श्री जीण शक्ति मंगल पाठ और संध्या में विराट संकीर्तन, अखंड ज्योत, भव्य श्रृंगार, चुनड़ी उत्सव, छप्पन भोग, नृत्य नाटिका और गजरा उत्सव रहेगा। साकची शिव मंदिर से सुबह 7.30 बजे निशान यात्रा निकलेगी जो काशीडीह होते हुए गोलमुरी जीण माता शिव मंदिर में जाकर संपन्न होगी। दोपहर 2 बजे से महोत्सव स्थल पर सामूहिक रूप से महिलाओं द्वारा मंगल पाठ आयोजित होगा। जयपुर के कलाकार सांवरमल कथक व संतोष कथक संयुक्त रूप से मंगल पाठ भजनों के माध्यम से पढ़ेंगे।
बैठक में प्रमुख रूप से महाबीर मुनका, शंभू खन्ना, बजरंग लाल अग्रवाल, राजकुमार रिंगसिया, नटवरलाल सिंघानिया, सुनील देबुका, विनोद खन्ना, प्रमोद खन्ना, संजय अग्रवाल, विजय अग्रवाल, सीताराम अग्रवाल, अधिवक्ता कैलाश अग्रवाल, रतनलाल भोतिका एवं मनीष खन्ना आदि शामिल थे।
इनके बीच बांटी गयी जिम्मेदारी
इस धार्मिक महोत्सव को सफल बनाने के लिए शोभा यात्रा की जिम्मेदारी श्री जीण माता सेवा मंडल को सौंपी गयी। मंगल पाठ एवं दरबार को सफल पूर्वक संपन्न बनाने के लिए प्रमोद खन्ना एवं सुनील देबुका को प्रभार सौंपा गया। इसी प्रकार अखंड ज्योत की व्यवस्था की जिम्मेवारी श्याम खंडेलवाल व सुरेश खेमका को दी गयी। चुनड़ी वितरण की व्यवस्था अध्यक्ष बजरंग अग्रवाल के पास रहेगी। बाहर से आने वाले भक्तों एवं कलाकारों समेत अतिथियों को सम्मान देने की जिम्मेवारी मनोज खन्ना और राजकुमार रिंगसिया को दी गयी है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More