विधि व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए उपायुक्त की पहल

 

रवि कुमार झा,जमशेदपुर,07 जुलाई

पूर्वी सिंहभूम जिला में बीते महीने भर से विधि व्यवस्था की हालत खस्ता है और अपराधियों का हौसला बुलंद है, समय समय पर अपराधी अपनी करतूतों से यह अहसास भी कराते रहे हैं। जिला प्रशासन पर भी इसका दबाव बनना स्वाभाविक है। उपायुक्त डॉ. अमिताभ कौशल ने विधि व्यवस्था की समीक्षा के लिए समाहरणालय में बैठक बुलाई, जिसमें पुलिस महकमें के सभी आला अधिकारी उपस्थित थेँ। बैठक में विधि व्यवस्था को चाक चैबंद बनाने तथा अपराधियों की नकेल कसने के लिए कई फैसले भी लिये गये। उपायुक्त ने विधि व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए पुलिस अधिकारियों को कई टिप्स भी दिये। कहा गया कि अपराधियों के साथ कड़ाई से पेश आने की जरूरत है और अदालत में लम्बित मुकदमों के ट्रायल में तेजी लानी चाहिए। शहर में कई स्थानों पर सीसीटीवी लगाये गये हैं लेकिन अब तक उसका सीधा फायदा पुलिस महकमें को नहीं मिला है इसलिए अन्य चैक चैराहों को चिन्हित कर वहां सीसीटीवी लगाने का निर्देश दिया गया। बैठक में अपराधियों के खिलाफ सीसीए एवं जिला बदर की कार्रवाई करने के लिए अधिकारियों को कहा गया तथा शैक्षणिक संस्थानों के आसपास पुलिस की तैनाती का निर्देश दिया गया, जिससे छेड़खानी की घटनाओं पर रोक लगाया जा सके। जेल सम्बन्धी समस्याओं के  निराकरण के लिए भी समयबद्ध कार्यक्रम बनाने की जरूरत बतायी गयी। बैठक में एसएसपी एवी होमकर, सिटी एसपी कार्तिक एस समेत अन्य पदाधिकारी तथा एसडीओ व अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More