जादूगोड़ा मे हिमाचल प्रदेश की व्यास नदी की घटना दोहराने से बची जान जोखिम मे डालकर मुश्किल से बचाई गयी पाँच ग्रामीण युवको की जान

37

 

संतोष अग्रवाल ,जमशेदपुर,04 जुलाई

जमशेदपुर के पोटका प्रखण्ड के डोमजुड़ी पंचायत स्थित गुर्रा नदी मे हिमाचल प्रदेश के व्यास नदी की घटना दोहराने से बच गया  पाँच ग्रामीण युवक बीच नदी मे अचानक पानी बढ़ जाने से फंस गए जिन्हें  तीन ग्रामीण युवको ने जान जोखिम मे डालकर बाहर निकाला ।

बताया जाता है कि पोटका प्रखण्ड के  राजदोहा कंसारी टोला के पाँच ग्रामीण युवक रवि कंसारी , मंगल कंसारी , तबलू पात्र , रूपेश सरदार एवं पोलटू सरदार शुक्रवार को गुर्रा नदी मे दोपहर करीब 2.30 बजे मछ्ली पकड़ने गए थे उन्होने बताया की वे नदी के बीच बने टापू मे मछ्ली पकड़ रहे थे और नदी का पानी केवल घुटनो तक था लेकिन अचानक से केवल पाँच मिनट के अंदर बहुत अधिक पानी आ गया और चारो तरफ से नदी भर गया और युवको की जान सांसत मे पड़ गयी किसी तरह इस बात की जानकारी ग्रामीणो को हुई तो सभी असमंजस मे पड़ गए की इन सभी को बाहर कैसे निकाला जाए उफनती नदी के कारण किसी का हिम्मत नहीं हो रहा था की इसी बीच तीन ग्रामीण युवक जयपाल सरदार  , फुचू सरदार एवं सुरेश सरदार ने अपनी जान जोखिम मे डालकर बचाने का निर्णय लिया और जयपाल सरदार रस्सी और गैलन लेकर पानी मे कूद पड़ा किसी तरह गेलन के सहारे वो युवको के पास पहुंचा और रस्सी का एक छोर वहाँ चट्टान से बांधा और दूसरा छोर बाकी दोनों युवको ने पेड़ से बांधा इसके बाद सभी युवक रस्सी मे लटकते हुए नदी से बाहर आए रस्सी से हाथ छूटने का मतलब मौत था , 2.30 बजे से फंसे युवको को करीब 6 बजे शाम को निकाला गया करीब साढ़े तीन घंटा सभी मौत और जिंदगी के बीच झूलते रहे । युवको ने बताया की यहाँ पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था की केवल पाँच मिनट मे नदी उफनने लगे , ग्रामीणो ने बताया की अगर तीनों युवक साहस नहीं दिखाते तो बड़ी घटना घट सकती थी हरना हल्दीपोखर की और से यह नदी बहते हुई आती है ।

इस संबंध मे जानकारी देने पर एसडीओ धालभुम के  प्रेमरंजन ने बताया की बचाने वाले युवको ने जान बचाकर साहसिक काम किया है और जिला प्रशासन उन चार लङको को पुरस्कार देने के लिए प्रयास करेगा।

 

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More