मुंडे के निधन पर राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत मुंडा व रघुवर ने जताया शोक

रवि कुमार झा,जमशेदपुर.03 जुन
केंद्रीय ग्रामीण विकास, पंचायती राज एवं पेयजल तथा स्वच्छता मंत्रालय के निधन पर राज्यपाल डॉ. सैयद अहमद और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शोक व्यक्त किया है। राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुण्डे के निधन पर गहरा दुःख एवं हार्दिक शोक प्रकट करते हुए कहा है कि वे कुशल एवं संवेदनशील जन प्रतिनिधि तथा प्रखर वक्ता थे। उनके निधन से राष्ट्र ने एक कुशल एवं विकास के प्रति समर्पित रहनेवाले राजनीतिज्ञ खो दिया है। ईश्वर उनकी आत्मा को चिरशांति प्रदान करें। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गोपीनाथ मुंडे के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके निधन से देश की राजनीति में शून्यता आयी है,उसकी भरपाई संभव नहीं है। केंद्रीय मंत्री के निधन पर भाजपा समेत विभिन्न राजनीतिक दलो के नेताओ ने भी शोक जतायी है। उधर, झारखंड प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गोपीनाथ मुंडे के निधन की सूचना मिलने पर उनके शोक में एक मिनट का मन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी। लोकसभा चुनाव संपन्न होने के बाद आज रांची स्थित प्रदेश कार्यालय में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियो की बैठक बुलायी गयी है। बैठक के आरंभ में प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रवींद्र कुमार राय ने उपस्थित समस्त पदाधिकारियो केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गोपीनाथ मुंडे के निधन का दुःखद समाचार सुनाया,इसके बाद उनके शौक में एक मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रेम मित्तल ने बताया कि एक मिनट के मौन के बाद आज प्रदेश पदाधिकारियो की बैठक को¨ स्थगित कर दी गयी। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रवींद्र कुमार राय ने शौक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपीनाथ मुंडे के निधन से पूरा देश मर्माहत है। उन्होने कहा कि वे भाजपा के एक शीर्ष नेता थे और संसद में अपनी विशेष पहचान बनायी थी। पिछली बार लोकसभा में उन्हें पार्टी की ओर से उपनेता बनाया गया था। महाराष्ट्र के विकास और संगठन के विस्तार में उनका अहम योगदान था और आज उनकी असामायिक निधन से राष्ट्रीय स्तर पर सदमा लगा है। पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अर्जुन मुंडा ने अपने संबोधन में कहा कि केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे के निधन से पार्टी के सभी कार्यकर्ता-नेता मर्माहत है। उन्होंने कहा कि गोपीनाथ मुंडे ने जमीन से शुरुआत कर राजनीति के शिखर तक पहुंचे और संगठन में आम कार्यकर्ता के रुप में काम करने से पार्टी के अंदर उनकी काफी लोकप्रियता थी। उनके निधन से राष्ट्र को अपूरणीय क्षति हुई है। पूर्व उपमुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी पार्टी के वरिष्ठ नेता के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनका असामायिक निधन देश की राजनीति के लिए अपूरणीय क्षति है। वे दलित, पीडि़त व शोषित की आवाज बनकर उभरे थे, ईश्वर उनकी आत्मा की शांति प्रदान करें। भाजपा सांसद पीएन सिंह ने अपने शोक संदेश में कहा कि 1980 से लगातार विधायक-मंत्री-सांसद रहने के बावजूद उनकी सादगी सभी को आकर्षित करता था। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सीपी सिंह ने भी अपने शोक संदेश में कहा कि गोपीनाथ मुंडे कुछ वर्ष पहले रांची के बूटी मोड़ स्थित महाराणा प्रताप की प्रतिमा के अनावरण के मौके पर रांची आये थे, उस वक्त उनसे बातचीत करने का अवसर मिला था, उनकी सहजता व सादगी से सभी प्रभावित होते थे। भाजपा साकची मंडल के द्वारा एक शोक सभा का आयोजन गरमनाला में किया गया। इस अवसर पर मंडल उपाध्यक्ष राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि श्री मुंडे भाजपा के कर्मठ एवं जुझारू नेता थे। भाजपा कदमा मंडल के द्वारा फार्म एरिया, रोड नं0 18 स्थित मंडल अध्यक्ष राकेश सिंह के आवास पर शोक सभा का आयोजन कर केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता गोपीनाथ मुंडे को श्रद्धांजलि दी गयी। इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष ने श्री मुंडे को गरीबों का मसीहा और जमीन से जुड़ा हुआ नेता बताया।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More