एएसआई के गुंडागर्दी के खिलाफ एसएसपी को आवेदन एएसआई पर विभागीय कारवाई और निलंबन की मांग

40

संवाददाता.जमशेदपुर,30 मई ,

जमशेदपुर चैम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष मोहनलाल अग्रवाल के दिशा निर्देश पर जमशेदपुर चैम्बर ऑफ कॉमर्स के जादूगोड़ा शाखा के उपाध्यक्ष ने एसएसपी जमशेदपुर वेणुकान्त अमोल होमकर को हस्ताक्षर युक्त आवेदन मेल करके जादूगोड़ा थाना के एएसआई के संबंध मे शिकायत किया गया है । आवेदन के द्वारा एसएसपी को बताया गया है की एएसआई सुशील डांगा द्वारा जादूगोड़ा थाना मे पद ग्रहण करने के बाद से ही मनमानी किया जा रहा है और उनके द्वारा किसी गुंडे की तरह कार्य किया जा रहा है , आगे बताया गया है की भोले भाले लोगो को धमकाना – डराना और झूठा केस डायरी लिखना और पैसे लेकर दोषी को निर्दोष और निर्दोष को दोषी बनाना , केस डायरी मे झूठा लिखकर किसी आरोपी का नाम हटाना और नन बेलेबल धारा हटाकर चार्जशीट भेजना इनका मुख्य धंधा है । इस आवेदन मे बताया गया है की किस प्रकार सुशील डांगा जादूगोड़ा की बेटी रजनी रजक को न्याय नहीं दिलाकर उससे 2000 रूपिये ठग लिए गए और केस दर्ज़ होने के आठ महिना मे भी आरोपियों के खिलाफ वारंट के लिए कोर्ट से मांग नहीं किया । जादूगोड़ा के संतोष कुमार अग्रवाल एवं सुशील कुमार अग्रवाल पर केस संख्या 28/13 का झूठा अनुसंधान किया गया और उन्हे फंसाया गया । समाजसेवी सोनू कालिंदी को दुर्भावना से ग्रस्त होकर दो-दो बार जेल भेजा एवं रात के 12-1 बजे किसी अपराधियो की तरह घर से गिरफ्तार किया गया और वह भी जादूगोड़ा मे चल रहे अवैध राहुल लॉज के विरोध के कारण । सुशील डांगा ने 27 मई की रात भाजपा नेता गिरीश सिंह को सरे बाज़ार बद्तमीजी और अपने सिपाही से एसएलआर सटवाकर बेज्जत किया । सुशील डांगा पर दो-दो केस दर्ज़ है लेकिन वे जादूगोड़ा थाना मे ही बने हुए है । संतोष अग्रवाल ने 64/13 —–4/11/2013 को सुशील डांगा एवं अन्य पर गंभीर धाराओ के अंतर्गत दर्ज़ कराया है लेकिन वो अभी तक जादूगोड़ा थाना मे अपने पद पर बने हुए है । एवं राखी कालिंदी राखा कॉपर निवाशी ने भी धारा 384 के अंतर्गत केस दर्ज़ किया है । सुशील डांगा द्वारा अपने लोगो के माध्यम से पत्रकारो को धमकाया जाता है की केस कर फंसा देंगे और स्टेसन डायरी मे भी गलत लिखकर फंसा दूंगा । इस आवेदन मे बताया गया है की जून 2013 मे सुशील डांगा के इनहि कारनामो की वजह से भवानीडीह की महिलाओ रिश्वत मांगने के कारण बंधक बनाकर जमकर धुनाई की थी तत्कालीन थाना प्रभारी ने हाथ पेर जोड़कर छुड़वाया था । इसके अलावा भी सुशील डांगा के खिलाफ इंट्टाभट्टा के सोनू बहादुर ने मानवाधिकार आयोग से शिकायत किया है और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने केस रजिस्टर्ड कर लिया है । सुशील डांगा को निलंबित कर कानूनी कारवाई की मांग को लेकर चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष मोहनलाल अग्रवाल सदस्यो के साथ शुक्रवार को एसएसपी से मिलेंगे और इसके बाद आगे की कारवाई की रूप रेखा तय करेंगे।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More