कमल प्रकरण मे उठी सीबीआई जांच की मांग का किया समर्थन

40

जादूगोड़ा
कमल सिंह एवं दीपक सिंह द्वारा 1800 करोड़ के चिटफंड घोटाला के 10 महिना बाद बीजेपी ने राज्यपाल को ज्ञापन सौपकर इस घोटाला की सीबीआई जांच एवं विधानसभा चुनाव मे मुद्दा बनाने की घोषणा के बाद राजनीति गरमाने लगी है ।
आजसु के जिलाअध्यक्ष समीर महंती ने कहा की यह मामला बहुत बड़ा हो गया है जिसप्रकार बंगाल मे चिटफंड घोटाला शारदा का जिस प्रकार सीबीआई जांच करवाया गया ठीक उसी प्रकार इस 1800 करोड़ के चिटफंड घोटाला की जांच सीबीआई द्वारा करवाना चाहिए एवं इस मुद्दे को लेकर आजसु भी जोरदार आंदोलन की तैयारी कर रही है एवं आंदोलन के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं रह गया है क्योंकि सरकार एवं प्रशाशन दोनों ही न्याय दिलाने मे विफल रही है ।
वहीं जेवीएम के नेता मनोज प्रताप सिंह ने कहा की इस चिटफंड घोटाला मे निवेशको को न्याय मिलना चाहिए एवं न्याय सीबीआई जांच के बाद ही मिल पाएगा और निवेशक हमलोगो का असतह दे हम आंदोलन को तैयार है एवं बीजेपी की तो केंद्र मे सरकार है उसको तो सीबीआई जांच करवाना चाहिए ।
वहीं जेएमएम के जिलाअध्यक्ष रमेश हांसदा ने कहा की बीजेपी मुद्दा को भटकाना चाहती है जेएमएम ने सुरू से ही इस मुद्दे को लेकर आंदोलन किया है एवं डीसी से एसपी तक ज्ञापन सौपकर जांच की मांग की है एवं निवेशको को भी आगे आना पड़ेगा धारणा एवं घेराव भी जेएमएम ने किया है ।
उत्तरी पोटका के जिला परिसद सदस्य करुणामय मण्डल ने कहा की राजकॉम का मुख्य कार्यालय का मकान मालिक द्वारा ताला तोड़कर कब्जा कर लेना जबकि उसमे इस्तेहार चस्पा हुआ था यह प्रशाशन की गैरजिम्मेदारी पूर्ण कारवाई को दर्शाता है और अभी भी निवेशक लोग धेर्य बनाए हुए है और प्रशाशन और न्याय व्यवस्था पर अपना विश्वाश बनाए हुए है और अगर कोई विस्फोटक स्थिति उत्पन्न होती है तो इसके लिए प्रशाशन पूरी तरह से जिम्मेदार होगा और जनप्रतिनिधि होने के नाते जनता के साथ हमेशा रहूँगा आगे उन्होने कहा की मैंने राजकॉम कार्यालय के संबंध मे ग्रामीण एसपी से बात की और उन्होने मुझसे कहा की बड़ा बाबू को जांच का आदेश दे दिया गया है ।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More