भाजपा नेता गिरीश सिंह पर एएसआई के इशारे पर सिपाही ने ताना एसएलआर

 

संवाददाता.जमशेदपुर,27 मई

जादूगोड़ा थाना के एएसआई सुशील डांगा और दुर्गानन्द ठाकुर ने सरेआम दिखाई गुंडागर्दी भाजपा के कद्दावर नेता गिरीश सिंह उनके इशारे पर सिपाही ने भाजपा नेता पर एसएलआर तान दिया और गालीगलोज किया , भाजपा नेता गिरीश सिंह ने बताया की मैंने सड़क के बिलकुल किनारे अपनी बुलेट मोटरसाइकिल लगाई हुई थी और इस सड़क के किनारे कोई जगह नहीं है , इतने में जादूगोड़ा थाना का जीप वहाँ आ गया और उसमे सवार एएसआई सुशील डांगा और एएसआई दुर्गानन्द ठाकुर ( दुर्गानन्द ठाकुर बिना वर्दी मे थे ) ने गाड़ी हटाने को लेकर भाजपा नेता से दुर्व्यवहार करने लगे की इतना मे दोनों एएसआई के इशारे पर एक सिपाही जीप से उतरा और भाजपा नेता के सर पर एसएलआर सटा दिया और भाजपा नेता से सिपाही ने कहा की जहां फोन करना है करो मेरा कुछ उखाड़ नहीं सकेगा इसके बाद इस घटना की जानकारी गिरीश सिंह के द्वारा विधायक सहित थाना प्रभारी जादूगोड़ा को दी गयी जिसके बाद जीप वहाँ से चला गया ।

इस संबंध मे विधायक मेनका सरदार ने कहा की यह काफी गंभीर मामला है मै इसकी शिकायत एसएसपी से करूंगी और आरोपी एएसआई और सिपाही को जादूगोड़ा थाना से हटाने की मांग करूंगी इससे पहले भी कई लोगो ने मुझसे एएसआई द्वारा दुर्व्यवहार की शिकायत की गयी है ।

एएसआई ने राष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त चित्रकार के साथ दुर्व्यहार का लगाया आरोप

 

 

जादूगोड़ा थाना के एएसआई दुर्गानन्द ठाकुर जादूगोड़ा थाना का नाम डुबाने मे लगे हुए है थाना प्रभारी अरविंद प्रसाद यादव द्वारा क्षेत्र मे विधि व्यवस्था को नियंत्रण मे रखने के लिए निरंतर प्रयास किया जा रहा है वहीं एएसआई  दुर्गानन्द ठाकुर जैसे अधिकारी इसमे बट्टा लगाने से नहीं चूक रहे है , अभी कुछ दिनो पहले ही एक महिला ने दुर्गानन्द ठाकुर पर घर बुलाकर छेड़खानी करने का सनसनी खेज आरोप लगाते हुए डीआईजी समेत सभी वरीय अधिकारियों को लिखित दिया है और यह मामला अभी जांच के क्रम मे है की इसी बीच विगत रविवार को दुर्गानद ठाकुर ने राष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त जादूगोड़ा के प्रसिद्ध चित्रकार सह आदिवासि समाज की जान छत्रविर सिंह जिसका सम्मान झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा भी कर चुके है को बिना किसी वजह के गाली गलोच करते हुए एवं घसीटते हुए थाना जीप मे बैठा लिया । छत्रविर ने पूरे मामले की लिखित शिकायत जादूगोड़ा थाना प्रभारी से की है और थाना प्रभारी ने उन्हे उचित न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया है ,।

छत्रविर ने बताया की रविवार को शाम सात बजे वह जादूगोड़ा मोड चौक मे पैदल सड़क पार हो रहा था की मुझे देखकर एएसआई दुर्गानन्द ठाकुर ने कहा की गाड़ी गिरा दे मैंने कहा की गिरा दीजिये सर इन्हें गाड़ियों की वजह से आए दिन दुर्घटना होती रहती है वे गाड़ी गिरा रहे थे की इतने मे गाड़ी का मालिक पहुँच गया और बोला की यह मेरा गाड़ी है सर छोड़ दीजिये उसके बाद उन्होने उसे छोड़कर मुझे आँख दिखाते  हुए गालीगलोच करने लगे और कहा की एक दिन जेल मे डाल दूंगा तो समझ मे आ जाएगा इसके बड़ा मेरा कोलर पकड़ते हुए कहा की चल थाना और मुझे घसीटते हुए जीप मे बैठा लिया और कुछ देर बाद गाली गलोच देते हुए जीप से उतार दिया और भाग यहाँ से कहते हुए चला गया उस समय यह सब सेकड़ों लोग देख रहे थे । इसके बाद मैंने इस संबंध मे थाना प्रभारी से मिलकर लिखित शिकायत कराया । छत्रविर ने बताया की एएसआई की कारवाई के कारण मेरा मान – सम्मान जादूगोड़ा मे सबकी नजर मे गिर गया जबकि जिंदगी मे मैंने मान ही कमाया है ।

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More