जमीन के लिए बेटे की हत्या का आरोप लगाया माँ ने बेटे की लाश पायी गयी थी जगनान्न्थ्पुर के पास रेलवे ट्रेक पर

 

संतोष अग्रवाल,जमशेदपुर,24 अप्रैल

घाटशिला प्रखण्ड के गालुडीह थाना क्षेत्र के गालुडीह निवाशी सुशीला देवी ने अपने रिश्तेदार सुनील अग्रवाल पर अपने बेटे आकाश अग्रवाल की हत्या का आरोप लगते हुए कहा की कभी भी मेरे परिवरा के अन्य सदस्यो की भी हत्या की जा सकती है , दहशत और आंखो मे आंँशु लिए हुए सुशीला देवी ने बताया की मेरे पति का नाम नरेश अग्रवाल है और हमलोग पिछले 30 वर्ष से अपने परिवार के साथ गालुडीह स्थित घर मे रहते है जो हमे हमारे फूफा ससुर परमानंद अग्रवाल ने दिया था , लेकिन उनकी मृत्यु के बाद उनके बेटे सुनील अग्रवाल ने हमे घर खाली करने को लेकर धमकाने लगा बीते साल 15 अगस्त 2013 को सुनील अग्रवाल दो सुमु गाड़ी मे अन्य दस अपराधी किस्म के लोगो के साथ मेरे घर आकर हमसे मारपीट किया और कहा की पूरे परिवार के एक एक सदस्य को काट कर फेंक दूंगा उसके साथ जो लोग थे उन्होने बताया की हमलोग पुतुलडीह मौभंडार के रहने वाले है और हम पैसे के लिए कुछ भी कर सकते है और हमे सुनील ने 10 हज़ार रुपया दिया है ,इस बात से हमलोग बहुत भयभीत हो गए और इसकी लिखित शिकायत गालुडीह थाना मे की और जब कोई कारवाई नहीं हुआ तो हमने एसडीएम घाटशिला के पास 30/08/2013 को केस दर्ज़ कराया जिसमे मैंने पहले ही आशंका व्यक्त किया था की हमारे परिवार के सदस्यो के साथ कोई भी अनहोनी हो सकती है , इस केस मे गालुडीह थाना द्वारा जांच किया गया और हमारे आरोपो को सत्य समर्पित किया गया लेकिन आरोपी पर कोई कारवाई नहीं किया गया ,

इस घटना के बाद मेरा बेटा आकाश अग्रवाल ( 18 वर्ष ) 10 मार्च  को  दोपहर से  घर से लापता हो गया और हमने काफी खोजबीन किया पर नहीं मिला 30 मार्च  को घाटशिला रेलवे थाना से सूचना मिली की एक अज्ञात लाश को बरामद कर पोस्ट्मार्डम कर जमीन मे गाड़ दिया है , हमने फोटो से अपने बेटे का मिलाप किया मेरा बेटा का गला काटा हुआ था ,

उन्होने बताया की मेरे बेटे की हत्या कर सुनील अग्रवाल ने रेलवे ट्रेक पर फेंक दिया है , सुनील अग्रवाल पर एसडीएम कोर्ट से 107 का मामला मे अनुपस्थिति को लेकर वारंट निकला हुआ है लेकिन अभी तक पुलिस ने उसे गिरफ्तार नहीं किया है अगर पुलिस ने समय पर कारवाई किया होता तो आज मेरा बेटा जिंदा होता उन्होने रेलवे थाना घाटशिला पर भी आरोप लगाते हुए कहा की मेरे बेटे की हत्या हुए लगभग 44  दिन हो चुके है लेकिन मुझे अभी तक पोस्ट्मार्डम रिपोर्ट नहीं दिया गया है , एक माँ का दर्द कोई नहीं समझ रहा है और मुझे डर लगा हुआ है की कहीं मेरे अन्य बेटो की भी हत्या न कर दी जाये ,

वहीं घाटशिला के डीएसपी मोहम्म्द एकराम ने कहा की मामला अभी रेलवे के पास है जैसे ही यह मामला मेरे पास आयेगा मामले मे उच्चस्तरीय जांच किया जाएगा ,

इस संबंध मे जमशेदपुर चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष मोहनलाल अग्रवाल ने कहा की पीढ़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए पूरा चेम्बर उसके साथ खड़ा रहेगा एवं चेम्बर द्वारा उन्हे न्याय दिलाया जाएगा ,

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More