फिल्मी स्टाइल में बेरोजगारो से ठगी कराने वाला गिरोह का हुआ खुलासा सरगना सहित तीन हुये गिरफ्तार

टावर लगाने के नाम पर आठ सौ लोगों से ढाई करोड का कर चुका है ठगी
संवाददाता,जमशेदपुर,,11 अगस्त।
गोलमुरी पुलिस ने फिल्मी स्टाई में बेरोजगारों को नौकरी देकर ठगी कराने वाले सरगना सदन कुमार सिंह सहित उसके दो सहयोगी अशोक कुमार महतो और राम कुमार को गिरफ्तार किया है। उनके पास से सोलह सीम ,छह मोबाईल और जाली कम्पनी के ढरों कागजात बरामद किया है। यह गिरोह मोबाईल फोन टावर लगाने के नाम पर आठ सौ लोगों को ठग चुके है।
जमशेदपुर एसएसपी एवी होमकर ने अपने कार्यालय में संवाददाता सम्मेलन कर बताया की गोलमुरी थाना प्रभारी नेहाल उद्दीन ने गुप्त सूचना के आधार पर कालीमटी रोड स्थित सिंधु होटल के सामने से अन्तरराजीय गिरोह के दो ठगो को गिरफ्तार किया। उनकी पहचान परसुडही सरजामदा निवासी सदन सिंह और राजनगर के अशोक कुमार महतो के रुप में हुई। उनके निशानदेही पर एलबीएसएम कॉलेज रोड़ हरहरगुट्टू बागबेडा निवासी राम कुमार को पकडा गया। उनके पास से सोलह सीम ,छह मोबाईल और जाली कम्पनी के ढेरों कागजात बरामद किये गये। साथ ही ठगे गये कुछ लोगों के नाम पता मिले है।जांच से जानकारी हुई कि वे मोबाईल फोन टावर लगाने के नाम पर ठगी करते थे। उन लोगों ने अब तक आठ सौ लोगों से ढाई करोड़ रुपये की ठगी की है।

ऐसे करते थे ठगी
ठगी को अंजाम देने वाले गिरोह का सरगना सदन कुमार सिंह ने ठगी को सुचारु रुप से चलाने के लिये अविश इन्टरप्राइजेज प्राईवेट लिमिटेट नाम की कम्पनी खोल लिया। इसके लिये जमशेदपुर के साकची,बिस्टुपुर,जुगसलाई सहित अनेकों स्थानों पर कार्यलय खोल दिया यहां बेरोजगार युवकों को मोबाईल फोन के टावर लगाने के काम के लिये इन्टरव्यु लेकर 40 युवकों को बहाल कर लिया। उन युवको से शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में टावर लगाने के लिये ग्राहक खोजवाता। जो लोग अपने जमीन और मकान पर टावर लगाने के लिये तैयार हो जाते,उनसे अविश इन्टरप्राइजेज प्राईवेट लिमिटेट के नाम से एग्रिमेंट करावाते। उनसे आईसीआईसीआई और एसबीआई बैंक में रुपये जमा करवाता था। साथ ही अपने ग्राहक को प्रतिमाह 30 हजार रुपसे कमाने का सपना दिखाते थे। बदले में एग्रिमेंट के नाम पर 25 से 30 रुपये लिये जाते थे। इस तरह एजेंट के माध्यम से टावर लगाने के नाम पर लोगों को फंसा कर उनसे रुपये ठग लिये जाते। इस बीच टावर लगाने में देर होने लगा तो कम्पनी के बहाल कर्मचारी तगादा करने लगे। इससे बचने के लिये आरोपियों ने कार्यालय बंद कर भाग गये।ठगे गये रुपये आपस में बांट लिये गये।

कहां कहां के लोग ठगे गये

ठग गिरोह ने जमषेदपुर के अलावे मालदा,लोहरदगा,मधुबनी,मुरषीदाबाद,पुरुलिया,सुलतानपुर,बर्दमान,बोकारो,पटना,सीतामढी,जमुई,कोडरमा,अगबल,दिनाजपुर,मुजफ्फरपुर,भुनेश्वर,विसई,बैलपुर सहित अन्य जगहों के लोगों को ठगा है।

ठगे गये सम्पति को ठेकेदारी में लगाया
पुलिस के द्वारा पकड़ा गया सरगना सदन कुमार सिंह ने बताया कि ठगी के पैसे को सीवील के काम में लगा कर ठेकेदारी कर रहा था। कुछ कम्पनी में बील फंसने से लोगों का रुपया नहीं लौटा सका।उसने बताया कि वह कुछ लागों का रुपया लौटा चुका है। आठ सौ लोगों से टावर लगाने के नाम पर रुपये लिये है।

सम्पति होगा अटैचःएसएसपी
एसएसपी एवी होमकर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों का आईसीआईसीआई और एसबीआई बैंक में एकाउन्ट मिले है। उन एकाउन्ट में ठगी के रुपये है। उन रुपयों के अलावे ठगी से खरीदे गये सम्पति को पुलिस जब्त करेगी।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More