Breaking News :
जमशेदपुर -परिषद ने मनाया 259 वाँ आर्मी सर्विस कोर दिवस | जमशेदपुर -570वां नेत्र शिविर का आयोजन | जमशेदपुर म्यूजिक सर्किल एवं दी इवनिंग क्लब , टिनप्लेट के तत्वाधान में दो दिवसीय तीसरा वार्षिक हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत सम्मलेन -2019 का आयोजन | REMARKABLE GROWTH IN SER’S FREIGHT TRAFFIC | नवादा -बिहार के नवादा में परिवर्तन के सूत्रधारों को 'हम कुछ भी कर सकते हैं' अवार्ड्स में किया गया सम्मानित | झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान में भी जनता ने विपक्षी महागठबंधन को पूरी तरह नकार दिया है:भाजपा | आईएसएल-6 : जमशेदपुर का घर में अजेयक्रम जारी, चेन्नइयन को ड्रॉ पर रोका | जमशेदपुर-भक्ति जीवन का लक्ष्य ,भक्ति मिल गई तो सब कुछ मिल गया | जमशेदपुर -दिव्यांग व 80 वर्ष से अधिक के मतदाता पोस्टल बैलट के जरिए आज और कल करेंगे मतदान:- जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त. | जमशेदपुर महानगर भाजपा अध्यक्ष दिनेश ने मतदान के बाद फ़िर भरी हुँकार, कार्यकर्ताओं का जताया आभार, फेसबुक पोस्ट कर लिखा "अबकी कमल ख़िल रहा पूरी तैयारी से" | जमशेदपुर -शत प्रतिशत हो मतदान, पहले मतदान फिर जलपान -डॉ सुमन | जमशेदपुर - सरयू से मिले संपूर्ण हिंदू समाज के लोग | जमशेदपुर - पार्टी में फोरम मेंअपनी बात रखुंगा -काले | जमशेदपुर -मतगणना केंद्र के बाहर भाजपा कार्यकर्ता रहेंगे मुस्तैद। | चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त भाजपाईयों के विरुद्ध प्रदेश भाजपा ने चलाया अनुशासन का चाबुक, | जमशेदपुर - EVM का विवाद खत्म,सबकुछ समान्य | जमशेदपुर -मिथिला वासियों का वार्षिक कैलेण्डर का विमोचन | आईएसएल- 6 ः मानवीर ने फिर दिलाई गोवा को जीत  | जमशेदपुर -काले ने किया मतदान | जमशेदपुर - ग्रामीण क्षेत्र में सर्वाधिक मतदान, शहरी में सबसे कम मतदान |

गिरिडीह – ACB ने भु० अर्जन कार्यालय के अमीन को पॉच हजार घुस लेते ने पकड़ा

गिरिडीह।
जिले के  भू-अर्जन कार्यालय में कार्यरत अनुबंध अमीन राकेश सिंह को शुक्रवार को धनबाद भष्ट्राचार निरोधक शाखा एसीबी की टीम ने रंगेहाथ घूस लेते दबोचा। धनबाद एसीबी के पदाधिकारियों ने सारी कार्रवाई को धनबाद की महिला दडांधिकारी द्वीपमाला के नेत्तृव में अंजाम दिया। तीन अलग-अलग वाहनों में मौजूद टीम में डीएसपी के अलावे एसीबी के एसआई केएन सिंह समेत कई पदाधिकारी व जवान शामिल थे। एसीबी ने घूसखोर अमीन राकेश सिंह को धनबाद के तोपचांची निवासी देवेन्द्रनाथ अग्रवाल से परिवहन कार्यालय के समीप एक चाय-पकौड़ी की दुकान में पांच हजार रंगेहाथ लेते दबोचा। इसके बाद एसीबी के पदाधिकारी शिकायतकर्ता और आरोपी अमीन को भू-अर्जन कार्यालय ले गए। जहां एसीबी के काफी डांट-फटकार के बाद आरोपी अमीन उन सारे दस्तावेज को एसीबी की टीम के समक्ष दिखाया। इस दौरान आरोपी अमीन ने कार्यालय में अपने सिडिकेंट के उन सदस्यों का भी नामों का खुलासा किया। जो इन फाइलों को निपटाने में अमीन का सहयोग करते है। हालांकि एसीबी की कार्रवाई के बाद अमीन के सिडिकेंट के सारे सदस्य फरार हो चुके थे। इधर डांट-फटकार के बाद यह बात सामने आई कि भूखंड स्वामी देवेन्द्रनाथ अग्रवाल के जमीन अधिग्रहण से जुड़े दस्तावेज अपने पास सिर्फ इसलिए दबाकर रखा था, कि भूखंड स्वामी अग्रवाल उसे उसके बताएं रकम नहीं दे रहा था।
लिहाजा, उन सारे दस्तावेजों को एसीबी की टीम ने देखा, जिसमें भूखंड स्वामी को उनके गिरिडीह के डुमरी प्रखंड स्थित शंकरडीह मौजा की जमीन अधिग्रहण का मुआवजा राशि करीब 1 करोड़ की राशि भी स्वीकृत थी। बस भूखंड स्वामी को मुआवजा से जुड़े राशि के लिए 8 अवार्ड दस्तावेज पास करने थे। लेकिन इसी 8 अवार्ड को पास करने के लिए आरोपी अमीन भूखंड स्वामी से कुल 48 हजार रुपये की डिमांड कर रहा था। लिहाजा, अमीन राकेश सिंह के डिमांड किए जाने की सूचना भुक्तभोगी भूखंड स्वामी अग्रवाल ने धनबाद एसीबी को दिया।
इसके बाद अमीन और भूखंड स्वामी के बीच रुपये लेनदेन की तिथि तय हुई। जिसमें पहले किस्त के रुप में 5 हजार देने का वादा किया गया। शेष राशि को अवार्ड पास होने के बाद दिया जाना था। तय समय के अनुसार शुक्रवार को भुक्तभोगी अग्रवाल रुपये लेकर पहले समाहरणालय स्थित भू-अर्जन कार्यालय पहुंचे, जहां अमीन राकेश सिंह ने भूखंड स्वामी को परिहवन विभाग कार्यालय के समीप चाय-पकौड़ी की दुकान पर पहुंचने को कहा। जहां दुकान में भारी भीड़ के बीच अमीन भुक्तभोगी से 5 हजार रुपये ले ही रहा था, कि एसीबी की टीम ने नगद के साथ अमीन को दबोचा। दुकान में हुई कार्रवाई के बाद अफरा-तफरी का माहौल बनता। इसे पहले आरोपी अमीन को एसीबी की टीम पहले कार्यालय ले गई। इसके बाद आरोपी अमीन को लिए टीम के पदाधिकारी उसके शहर के बक्सीडीह स्थित आवास पहुंचे। जहां अधिकारियों ने जांच के बाद दुबारा कार्यालय लेकर पहुंच गए। कार्यालय में फिर एक बार सारे दस्तावेजों की जांच होने के बाद टीम आरोपी अमीन को धनबाद लेकर चली गयी हैा

0