Breaking News :
मोतिहारी -ट्रेन से कटकर दो छात्राओं की दर्दनाक मौत, ईयरफोन बना मौत का कारण | जमशेदपुर -केंद्र सरकार अपनी नाकामी को छुपाने के लिए और आम लोगों को दिग्भ्रमित करने के लिए नागरिकता संशोधन बिल को लागू करना चाहती है-बन्ना गुप्ता | जमशेदपुर -मैने हेमत  सोरेन को कभी सार्वजनिक रुप में भष्ट्राचारी नही कहा – सरयू  राय | जमशेदपुर -सरयू राय पहुंचे मिलन समारोह में | सरायकेला -एफसीआई गोदाम में अनाज भरा बोरा में दबकर मजदूर घायल | देवघर -मतदाताओं की सुविधा व सुरक्षा को लेकर सभी तैयारियां दुरूस्तः जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त | देवघर -स्वयं सहायता समूह की दीदियों ने पोलिंग पार्टियों को खिलाया खाना.... | सरायकेला -मॉर्निंग स्टार किड्स विद्यालय में वार्षिक खेलकूद महोत्सव का आयोजन | सरायकेला -औद्योगिक क्षेत्र में अपराधकर्मियों न किया ट्रक चालकों से नगद व मोबाइल की छीनतई | जमशेदपुर -बच्चों ने गरीबों के लिए गर्म कपड़ों को एकत्रित किया | जमशेदपुर -वीर योद्धाओं का नागरिक सम्मान ही परिषद का उद्देश्य | धनबाद -स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए प्रशासन ने की मुकम्मल तैयारियां | Ind vs WI: चेन्नई वनडे से पहले विराट कोहली के सामने आई बड़ी समस्या, लेना होगा बड़ा फैसला | DELHI - अनशन पर बैठी स्वाति जयहिंद की हालत बिगड़ी, अचानक हुईं बेहोश; LNJP अस्पताल में कराया गया भर्ती | जमशेदपुर -बिष्टुपुर बाजार में पहली बार विंटर कार्निवल का आयोजन आज से  | XLRI FELICITATES ITS ILLUSTRIOUS ALUMNI AT ‘DISTINGUISHED ALUMNI AWARDS’ | UP - उन्नाव के बाद अब फतेहपुर में दरिंदगी, दुष्कर्म कर युवती को केरोसिन डालकर जलाया, हालत नाजुक | राँची नामकुम थाना क्षेत्र एक नाबालिग छात्रा का दिनदहाड़े अपहरण की सूचना है।नामकुम के कालीनगर का मामला | Ind vs WI: वेस्टइंडीज को अब वनडे में पटखनी देने की बारी, बारिश बिगाड़ ना दे खेल! | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समीक्षा बैठक बुलाई, मंत्रिमंडल में जल्‍द हो सकता है फेरबदल |

चाईबासा – मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने अपने हाथों से आदिम जनजाति समुदाय की बहनों के पांव में चप्पल पहनाया

चाईबासा ःमुख्यमंत्री  रघुवर दास ने अपने हाथों से आदिम जनजाति समुदाय की बहनों के पांव में चप्पल पहनाया।
अवसर था चरण पादुका योजना के उद्घाटन का। किसी ने सोचा भी नहीं था कि इस योजना का उद्घाटन इस तरह होगा। पर, जब समय आया इसके उद्घाटन का तो सब चौंक गए। मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास एक छोटे भाई की तरह आगे बढ़े और आदिम जनजाति समुदाय की महिला झलक मुनि बिरहोर और तिरकी बिरहोर की ओर पहुंचकर उनके चरण पर झुके और उनके पैरों में चप्पल दिया और उन्हें प्रणाम किया। दोनों की आंखें भर आयी। लोग देखते रह गए.. लोग समझते रह गए। किसी ने ऐसी उम्मीद नहीं की थी पर मुख्यमंत्री के सहज व्यक्तित्व को इसकी परवाह नहीं थी। उनके लिए यह एक अत्यंत सामान्य सी बात थी। गरीब, गांव, मेहनतकश जैसे लोग मुख्यमंत्री के ह्रदय में बसते हैं। रक्षाबंधन से एक दिन पहले राज्य के मुख्य सेवक के हाथों बहन को चप्पल पहनाना लोगों के दिलों को छू गया।
अचानक से दृश्य कौंधता है संतालपरगना का। इसी तरह की घटना 14 सितम्बर 2016 को दुमका के आउटडोर स्टेडियम में हुई थी, जब मुख्यमंत्री मंच पर बैठे हुए थे, प्रमंडलस्तरीय सखी मंडलो का सम्मेलन हो रहा था, एक दिव्यांग जिसके पैर नहीं थे पर हौसले बुलंद थे वह मुख्यमंत्री को अपनी वेदना से रूबरू कराने के लिए मंच की ओर आगे बढ़ रहा था। मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास की नजर उस पर पड़ी, इससे पहले कि कोई कुछ समझे मुख्यमंत्री मंच से उतरकर उस दिव्यांग भाई के पास पहुंचे और कहा कि मैं मुख्यमंत्री नहीं आपका सेवक हूं। मैं आपके पास आऊंगा। दिव्यांग भाई को अब आवेदन से अधिक महत्वपूर्ण लगने लगा मुख्यमंत्री की संवेदना। उसकी आंखों में आंसू थे…ऐसे ही आंसू आज कोल्हान में झलक मुनि बिरहोर, तिरकी बिरहोर की आंखों में थे।

मुख्यमंत्री ने आज कहा कि चरण पादुका योजना के तहत चाईबासा जिले की स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के द्वारा बनाई गई चप्पले आदिम जनजाति समुदाय को नि:शुल्क दी जाएंगी। ज्ञात हो कि इस योजना को एसीसी सीमेंट के सीएसआर फंड के माध्यम जा रहा है।

0