अरविन्द केजरीवाल का बयान निंदनीय

बी.जे.एन.एन.न्यूज़ ब्यूरो,दिल्ली
आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविन्द केजरीवाल के मीडिया वालों को गिरफ्तार करने और जेल भेजने सम्बन्धी बयान की इंडियन जर्नलिस्ट्स वेलफेयर फाउंडेशन ने कड़ी निंदा की है. फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय सिंह ने कहा कि पत्रकार और मीडिया कर्मी दिन रात ईमानदारी से अपना फ़र्ज़ निभाते हैं और बिना किसी भेद भाव के जनहित में समाचारों का प्रकाशन प्रसारण करते हैं.केजरीवाल का बयान हताशा को दर्शाता है.
दूसरी तरफ जमशेदपुर में भी झारखण्ड श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की एक बैठक में यूनियन के महासचिव प्रमोद कुमार झा ,ज़िला संयोजक रबी झा ,अभिजीत आदि ने केजरीवाल के इस बयान को घोर निंदनीय बताया है.ॉ
गौरतलब है कि एक समाचार चैनल द्वारा एक वीडियो में केजरीवाल कहते दिख रहे हैं कि मीडिया ‘‘बिका’’ हुआ है और वह मीडियाकर्मियों को जेल भेज देंगे. आप नेता की टिपणी का कांग्रेस, भाजपा, राकांपा, एडिटर्स गिल्ड और ब्राडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन ने आलोचना की.
वही कांग्रेस नेता और सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने कहा कि लोकतंत्र में मीडिया की अहम भूमिका होती है और जो लोग सार्वजनिक जीवन में हैं, उनमें आलोचना सहन करने की क्षमता होनी चाहिए.उन्होंने कहा, ‘‘अगर कोई व्यक्ति इस तरह की बात कहता हो कि अगर वह सत्ता में आया तो वह मीडियाकर्मियों को जेल भेज देगा, काफी दुखद और निंदनीय है… जो लोग सार्वजनिक जीवन में हैं, उनमें आलोचना सहने की क्षमता होनी चाहिए.’’ भाजपा नेता अरुण जेटली ने कहा कि केजरीवाल ने बिना सबूतों के आरोप लगाए हैं.

जेटली ने कहा, ‘‘ अरविन्द केजरीवाल ने लोकलुभावन रुप में शुरुआत की. वह जनभावना भडकाने वाले नेता के रुप में सामने आए. वह किसी के खिलाफ बिना सबूत के आरोप लगा सकते हैं. उन्हें सच्चाई को लेकर चिंता नहीं है. वह गलत बातों को बार बार दोहराने में भरोसा रखते हैं. वह खुद को यह समझा भी लेते हैं कि उन्होंने जो तथ्य तैयार किए हैं वह सही हैं.’’

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More