• जिला पुलिस को मिली बङी सफलता. टाटा मोर्टस के अधिकारी ब्रजेश सहाय और रत्नेश राज हत्याकांड का किया खुलासा,

36

• पुलिस का जवान ही अपने साथियो के साथ मिलकर दे रहा था घटना को अजाम
• रवि कुमार झा.जमशेदपुर,27 जुलाई
• जमशेदपुर पुलिस को एक बार फिर बङी सफलता मिली है जिला पुलिस ने टाटा मोर्टस के अधिकारी ब्रजेश सहाय और रन्तेश राज के हत्या के मामले का खुलासा कर दिया है वही इसके अलावे जिला पुलिस को दावा पकङाया गया अपराधीके द्वारा ही अन्य कांडो को अंजाम दिया गया था।पकङाया अपराधी अंजन कुमार शुक्ला जमशेदपुर में पुलिस जवान के रुप में पदस्थापित है और फिलाहाल जमशेदपुर के सिवील कोर्ट मे डयुटी करता था।उसने ही अपने साथियो के साथ मिलकर धटना को अंजाम दिया
• इस मामले में जमशेदपुर के एसएसपी कार्यलय मे सवाददाता सम्मेलन कर में कोल्हान के डीआईजी मोहम्मद नेहाल बताया कि जमशेदपुर पुलिस के द्वारा लुल्हा उर्फ माया भगत को इनकाउटर करने के बाद भी लोगो के जेहन में यही सवाल था कि जिला पुलिस कब टाटा मोर्टस के अधिकारी ब्रजेश सहाय और रत्नेश राज हत्याकांड खुलासा जिला पुलिस के द्वारा कब किया जाएगा ।क्योकि ये घटना शहर का कॉरपोरेट अधिकारी के लोग काफी दहशत में थे इस घटना के बाद जिला पुलिस काफी चैलेजिंग था कि आखिर कोन इस घटना को अंजाम दे रहा है ।
• डीआईजी ने कहा कि इन सभी कांङो के उदभेदन हेतु एसएसपी के आदेश पर एक विशेष टीम का गठन किया गया ।एसएसपी ने स्वंय सभी कांडो का समीक्षा किया और जिसमें तकनीकि सहयोग एस विशेष क्राईम एनालैयासिस सॉफ्टवेयर खरीदकर सभी घटनाओ को निरीक्षण किया गया तो जानकारी हुई जितनी भी घटनाँए हुई सभी एक समान है
• इसीबीच 21 जुलाई को गोविदपुर गदङा के दशमेश इंजिनिंयरिंग मालिक सोनु प्रसाद उर्फ सतीश प्रसाद को फोन से 20 लाख रुपया की रंगदारी मांगी गई। और यही रंगदारी जिला पुलिस के जवान अंजन कुमार शुक्ला के लिए परेशानी का सबब बन गया।और वही सर्वलांस के आधार पर पुलिस ने अंजन कुमार शुक्ला को पकङा। पुछताछ में उसने स्वीकार किया कि वह अपने साथियो को साथ मिलकर रंगदारी मानने के उद्देशय से अपने साथियो के साथ मिलकर कई घटनाओ को अंजाम दिया।
• डीआईजी ने बताया कि पकङे गए अपराधी की योजना थी कि वे लोग पंडित गैग बना रहे है और पहले शहर में बडे लोगो की हत्या कर दहशत फैला कर रंगदारी वसुलने की योजना थी.पकङाया गिरोह का मुखिया खुद अंजन कुमार शुक्ला था।
• पकङाया अपराधी के नाम
• 1.अंजन कुमार शुक्ला (गिरोह का मुखिया),निवास—सुभाष नगर छोटा गोविंदपुर,थाना -परसुडीह,
• 2,मनीश पाण्डेय (शुटर)—साई मंदिर रोड,सुभाष नगर, थाना –परसुडीह
• 3.मंगल तिवारी—सुभाष नगर,छोटा गोविंदपुर,थाना.परसुडीह
• 4.कन्हैया झा,– कैलाश नगर थाना,बर्मा माईन्स
• बरामद समान
• 1.7.65 बोर का दो देशी पिस्तौल
• 2.9 एम एम का एक देशी पिस्तौल
• 3.7.65 का 07 जिंदा गोली
• 4.9 एम एम का 02 जिंदा गोली
• 5,रंगदारी मांगने में प्रयुक्त किया गया सीम और मोबाईल फोन
• 6.अंजन शुक्ला का पहचान पत्र एव अन्य कागजात
• 7.सीम लेने में प्रयुक्त फर्जी आई कार्ड
• 8 दो मोटर साईकिल.( हीरो होण्डा और टीवीएस स्टार )
• किन किन कांडो को इनके द्वारा दिया गया था अंजाम
• 23 नवंम्बर 13 को शाम के साढे सात बजे टिस्को के अधिकारी विपुल कुमार पर फांयरिंग की घटना
• 10 दिसम्बर को टाटा मोर्टस अस्पताल के सामने फांयरिंग की घटना
• 15 दिसम्बर को गोविंदपुर के ग्राम- गदरा में भुतपुर्व सैनिक ललित कुमार की गोली मार कर हत्या
• 21 दिंसबर 13 को सिदगोङा थाना के आरोग्यम अस्पताल के सामने टेटं मालिक हैप्पी सरदार के सहयोगी लखवींन्दर पऱ फांयरिग
• 22 फरवरी 14 को टाटा मोर्टस के अधिकारी स्व ब्रजेश सहाय की हत्या
• 27 फरवरी 14,गोविंदपुर के रेलवे फाटक के पास चौमीन दुकानदार पर फांयरिंग
• 10 मार्च,14 ,टिस्को के अधिकारी स्व रन्तेश राज की हत्या
• 15 जुन, 14 ,टाटा मोर्टस अस्पताल के सामने दो युवा ईंजीनियर सीख युवको पर हमला
• 21 /22 जुलाई.14 गोविंदपुर के दशमेश इंजिनिंयरिंग मालिक सोनु प्रसाद उर्फ सतीश प्रसाद को फोन से 20 लाख रुपया की रंगदारी मांगी

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More