शेखपूरा-बिहार में नीतीश का सुशासन खत्म,गुंडा राज कायम पत्रकारों की हत्या से बौखलाया भाकपा माले,निकाला विरोध मार्च

12

शेखपुरा.ललन कुमार। बिहार में दिनोंदिन बढ़ रहे अपराध को लेकर भाकपा माले ने अपने समर्थकों के साथ शहर में विरोध मार्च निकाला।विरोध मार्च का नेतृत्व भाकपा माले का जिला सचिव विजय कुमार विजय ने किया ।इस मौके पर  विजय ने बिहार सरकार के मुखिया नीतीश कुमार पर जमकर अपने बयानों से हमला किया ।उन्होंने  कहा कि अब बिहार में नीतीश कुमार का सुशासन खत्म हो चूका है ।बिहार में गुंडों का राज कायम हो चूका है ।सरकार के सुशासन को अपराधी रोज चुनौती दे रहे हैं ।हर दिन बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में दिनदहाड़े या सरेशाम लोगों की अपराधी हत्या कर दी जा रही है और सरकार के मुखिया नीतीश कुमार शराबबन्दी में लगे है।कभी निश्चय यात्रा करते हैं तो कभी विकास यात्रा करते हैं। ये सब नीतीश कुमार का ढोंग है ।समस्तीपुर में सरेशाम लोकतंत्र का चौथा स्तंभ,गरीबों की आवाज उठाने वाले पत्रकार ब्रजेश कुमार की हत्या हो जाती है और नीतीश कुमार के चेहरे पर पत्रकार की हत्या हो जाने का कोई गम नहीं है । ऐसा इसलिए की महागठबन्धन में शामिल लालू और नीतीश के संपोषित गुंडों ने ही उसकी हत्या की है । उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जी यदि आप लोगों को सुरक्षा नही दे सकते तो बिहार की गद्दी को छोड़ दीजिए ।आपका सुशासन का खेल खत्म हो चुका है ।बिहार में रोज लूट,हत्या,बलात्कार ,छेड़खानी समेत अन्य घटनाएं बढ़ रही है ।इन सारी घटनाओं का अंजाम आखिर कौन दे रहा है । राजद के संपोषित गुंडों द्वारा ही दिया जा रहा है  और वे उनके मुखिया बनकर टुकुर टुकुर देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि अररिया में पिछले दिनों माले के जिला सचिव सत्यनारायण यादव समेत पांच माले कार्यकर्ताओं की हत्या जो हुई है वे भी राजद  नेताओं के संपोषित गुंडों ने ही की है । बिहार के साथ साथ पूरे देश में दलितों और महादलितों पर भी खुले आम अत्याचार हो रहा है उन्हें देखने वाला कोई नहीं है।एक ने किया शराब बंदी तो दूसरे ने की नोट बन्दी यही तो है दोनों की युगल बन्दी । लालू नीतीश की सरकार गरीब विरोधी बन चुकी है । उन्होंने ने बिहार सरकार के मुखिया नीतीश कुमार से पत्रकार ब्रजेश के हत्यारों और, माले नेता के हत्यारों को नीतीश कुमार जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजें ।घटना की सीबीआई से जांच कराएं, मृतक परिवारों को 20-20 लाख रूपये मुआवजा दें ।इस मौके पर माले नेताओं में राजेश राय , कमलेश प्रसाद,सुबेलाल मांझी,सन्नी कुमार ,तेतरी देवी समेत दर्जनों लोग शामिल थे ।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More