रांची-मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य की 41 पथ योजनाओं के लिए भारत सरकार से 2530 करोड़ रुपये की मांग की है

35

संवाददाता,रांची,23 जनवरी

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य की 41 पथ योजनाओं के लिए भारत सरकार से 2530 करोड़ रुपये की मांग की है। इस राशि से 1110 किलोमीटर लम्बी सड़क का निर्माण होगा है। इन सड़कों के निर्माण के लिए डी0पी0आर0 भी बन चुका है। मुख्यमंत्री ने भारत सरकार के गृह और सड़क मंत्रालय से अनुरोध किया है कि वह इन सड़कों के निर्माण हेतु राशि उपलब्ध कराये, ताकि उग्रवाद प्रभावित इलाकों में सड़कों का निर्माण तेजी से हो सके।
भारत सरकार से अनुरोध करते हुए मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि झारखण्ड के 24 जिलों में से 21 जिले नक्सल प्रभावित हैं। ऐसे क्षेत्र में उन्नत सड़क नहीं रहने से आम जनजीवन को कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। राज्य सरकार मानती है कि दुर्गम एवं उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र में सड़क के विकास से वैसे प्रक्षेत्र का सामाजिक और आर्थिक विकास हो सकता है। उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में केन्द्र सरकार की देश के आठ नक्सल प्रभावित राज्यों में पथों के विकास के लिए साल 2009-10 में एक कार्यक्रम रोड रिक्वायरमेंट प्लान (आर0आर0पी0) का प्रथम चरण लांच किया गया था। बीते 13 जनवरी 2015 को रायपुर में इन आठ नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्री का सम्मेलन में आर0आर0पी0 की समीक्षा की गई थी। बैठक में केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री श्री नितीन गडकरी भी मौजूद थे। समीक्षा के दौरान बताया गया कि केन्द्र सरकार आर0आर0पी0 2 शीघ्र लांच करेगी।
मननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में पथों के विकास हेतु आर0आर0पी0 2 के माध्यम से एक वृहद योजना तैयार की गई है। इसमें राज्य के 19 नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में कुल 41 पथों का प्राथमिकता पर चयन कर इनके विकास की योजना है। इसके निर्माण से जहां एक ओर आवागमन सुलभ होगा, वहीं पथों के माध्यम से विकास के दरवाजे भी खुलेंगे। इससे उग्रवाद पर नियंत्रण भी रखा जा सकेगा।
जिलावार पथ योजनाओं की संख्या निम्न प्रकार हैः-
चतरा-4,चाईबासा-4, पूर्वी सिंहभूम-2,गुमला-7, गढ़वा-3, लातेहार-4, हजारीबाग-1, बोकारो-1, धनबाद-1, गिरिडीह-2, कोडरमा-1, राँची-1, सिमडेगा-1, सरायकेला-खरसांवा-1, खूँटी-2, रामगढ़-1, दुमका-3, पाकुड़-1 एवं देवघर-1
आर0आर0पी0-प्प् में सम्मिलित कुछ मुख्य पथ निम्न हैः-
1. पूर्वी सिंहभूम में डुमरिया-कोवाली पथ
2. चतरा अंतर्गत हंटरगंज-पाण्डेपुरा-प्रतापपुर पथ
3. पश्चिमी सिंहभूम में टोण्टो-रूआम पथ
4. गढ़वा में चैनपुर-रमकण्डा-भंडरिया पथ
5. लातेहार में बालूमाथ-हेरहंज-पांकी पथ
6. राँची में चान्हो-पुरनापानी-लापुंग पथ
7. दुमका में आमगाछी-कल्याणपुर पथ
8. गुमला में चैनपुर-नवगांव-जैरागी पथ
9. सिमडेगा में बोलवा-बेलकुवा-टेकबहार-उड़ीसा सीमा पथ
10. हजारीबाग में बनासो-बुडगड्डा पथ

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More