निर्मल महतो की जयंती पर चमरिया गेस्ट हाउस में लगा नेताओं का जमावड़ा

 

संवाददाता,जमशेदपुर,25 दिसबंर

गुरूवार को शहीद निर्मल महतो की 64वीं जयंती समारोह के अवसर पर बिष्टुपुर स्थित चमरिया गेस्ट हाउस में झामुमो, कांग्रेस, झामुमो युवा मोर्चा तथा छात्रा संघ समेत विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक संगठनों से जुड़े लोग जुटे और निर्मल महतो को श्र(ांजलि अर्पित कर उनके बताये मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। गुरूवार की दोपहर 12 बजे निर्मल महतो की प्रतिमा पर पफूलों का माला चढ़ाकर एक मिनट का मौन रखकर श्र(ाजंलि देने वालों में प्रमुख रूप से खरसावां के विधयक दशरथ गागराई, शैलेन्द्र महतो, रामदास सोरेन, मोहन कर्मकार, लालटू महतो, काबलू महतो, महाबीर मुर्मू, राजू गिरी, शेख बदरूद्दीन, प्रमोद लाल, आदि शामिल थे। इस मौके पर दशरथ गागराई ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी पार्टियां राजनीति करती है लेकिन शांति, सदभावना, भाईचारा और विकास के मुद्दे पर सबको मिलकर काम करने की जरूरत है तभी झारखंड का चैतरपफा विकास हो सकता है। उन्होंने कहा कि स्व. निर्मल महतो ने अलग राज्य का जो सपना देखा था वह तो पूरा हुआ लेकिन जैसा राज्य बनना चाहिए था वैसा विकास नहीं हुआ। श्री गागराई ने राज्य को सुधरने की दिशा में काम करने पर बल देते हुए आगे कहा कि राजनीति में ऐसी कोई टिप्पणी नहीं करनी चाहिए जिससे कभी भी आमना सामना होने पर नजर चुराना पड़े। इससे पहले सुबह 9 बजे समाध् िस्थल पर सर्वध्र्म प्रार्थना हुआ एवं श्र(ांजलि अर्पित की गयी। इसके बाद लगभग सभी नेताओं ने सोनारी स्थित झामुमो कार्यालय और दोमुहानी नदी के किनारे स्थापित निर्मल महतो की प्रतिमा पर भी माल्र्याण कर उन्हें याद किया।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More