टाटा स्टील कोलकाता लिटरेरी मीट की ‘शीर्षक प्रायोजक’ होगी

30

 

संवाददाता,जमशेदपुर, 14 जनवरी

टाटा स्टील ने 12 जनवरी 2015 को कोलकाता लिटरेरी मीट का शीर्षक प्रायोजक (टाइटल स्पांसर) बनने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया।

टाटा स्टील के कॉर्पोरेट कम्युनिकेशंस ऐंड रेगुलेटरी अफेयर्स ग्रुप डायरेक्टर चाणक्य चैधरी ने कंपनी की ओर से तथा कोलकाता लिटरेरी मीट के डायरेक्टर मालविका बनर्जी ने कोलकाता लिटरेरी मीट के आयोजकों की ओर से इस समझौते पर हस्ताक्षर किया। हर साल कोलकाता में विक्टोरिया मेमोरियल के सहयोग से इस समारोह का आयोजन किया जाता है।

कोलकाता लिटरेरी मीट के साथ टाटा स्टील का जुड़ाव इसके काॅर्पोरेट दर्शन के अनुरूप है जिसका उद्देश्य संगठनों तथा समाज में बौद्धिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा और प्रोत्साहन देने की दिशा में शुरू की गई पहलकदमियों को समर्थन और प्रोत्साहन देना है। वर्षों से, कंपनी साहित्यिक और सांस्कृतिक समारोहों एवं खेल कार्यक्रमों को समर्थन देती आ रही है।

कंपनी का विश्वास है कि यह जुड़ाव बौद्धिक समुदाय और पूर्वी भारत के साहित्यिक गहराई के साथ इसकी सहभागिता को और सुदृढ़ बनाने में मदद करेगा। आनेवाले समय में इस प्रकार के कार्यक्रमों का विस्तार इस क्षेत्र के अन्य शहरों में भी किया जाएगा।

इस अवसर पर अपने संबोधन में टाटा स्टील के कॉर्पोरेट कम्युनिकेशंस ऐंड रेगुलेटरी अफेयर्स ग्रुप डायरेक्टर चाणक्य चौधरी कहा कि कोलकाता पारंपरिक रूप से बौद्धिक और सांस्कृतिक रूप से जीवंत रहा है। यह शहर नियमित रूप से देश में आयोजित होने वाले सराहनीय सांस्कृतिक, संगीत और साहित्यिक कार्यक्रमों में से कुछ की मेजबानी करता है। कोलकाता लिटरेरी मीट को समर्थन देते हुए हमें गर्व हो रहा है जो इस शहर के सार को प्रकट करता है।

टाटा स्टील स्टील मार्केटिंग ऐंड सेल्स  वाइस प्रेसिडेंट पीयूष गुप्ता ने कहा कि कोलकाता लिटरेरी मीट शहर का महत्वपूर्ण कार्यक्रम रहा है और टाटा स्टील के लिए शीर्षक प्रायोजक के रूप में इससे जुड़ना सौभाग्य की बात है। यह कोलकातावासियों को बेहतरीन अनुभव प्रदान करने की दिशा में कंपनी के प्रयास की पुष्टि करता है साथ ही समाज के प्रतिष्ठित साहित्यिकारों को एक ज्ञानवर्द्धक मंच प्रदान करता है।

 

कोलकाता लिटरेरी मीट 2015 का आयोजन 23-27 जनवरी को विक्टोरिया मेमोरियल परिसर में किया जाएगा। यह कार्यक्रम साहित्य जगत के दिग्गजों, विचारकों और राय निर्माताओं के एकजुट होने का साक्षी बनेगा। लिटरेरी मीट में पुस्तक पाठ सत्र, विचार विमर्श, वाद-विवाद, दिलचस्प कार्यशालाओं तथा सांस्कृतिक प्रस्तुतियों को एक मंच प्रदान किया जाएगा।

 

कोलकाता लिटरेरी मीट का उद्घाटन प्रसिद्ध रस्किन बाॅण्ड करेंगे साथ ही वे अपने जीवन एवं कार्यों से जुड़े अनुभवों की साझेदारी करेंगे वहीं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की पुत्री  दमन सिंह तथा ‘स्ट्रिक्टली पर्सनल’की लेखिका साहित्य के साथ अपने सरोकार पर चर्चा करेंगी। अन्य प्रतिभागियों में शामिल है अमेरिकी लेखक जोआना रैकॉफ (माई सेलिंगर ईयर), साहित्य अकादमी पुरस्कार और आनंद पुरस्कार विजेता  अमिताव घोष (सी ऑफ पॉपीस), इतिहासकार डॉ रूद्रांशु मुखर्जी (नेहरू और बोस: समानांतर जीवन) तथा संगीतकार  शांतनु मोइत्रा आदि।

 

जया बच्चन कोलकाता लिटरेरी मीट के एक सत्र में भाग लेंगी वहीं अनुभवी अभिनेत्री  शबाना आजमी अपने पति तथा प्रसिद्ध गीतकार और पटकथा लेखक  जावेद अख्तर द्वारा रवीन्द्रनाथ टैगोर की कृतियों पर किए गए अनुवाद को पढेंगी।

 

 

 

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More