जमशेदपुर-हमको उजाला देते-देते जो बुझे हैं, उन दीपकों की पावन कतारों को नमन है : ब्राह्मण संघ

32

 

● बलिदान दिवस के रूप में मनी ‘आज़ाद’ की पुण्यतिथि
जमशेदपुर।27 फरवरी
अमर क्रांतिकारी शहीद चंद्रशेखर आजाद सोमवार को शहादत दिवस पर याद किए गए । ब्राह्मण युवा शक्ति संघ ने उनकी शहादत को ” बलिदान दिवस ” के रूप में स्मरण किया । देशभक्ति की भावनाओं से ओतप्रोत संघ के कार्यकर्ताओं ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए दीप प्रज्ज्वलित किया। संघ के संस्थापक सदस्य अप्पू तिवारी ने कहा कि हमें आज़ादी देते हुए जो बुझ गए (शहीद हुए), उन दीपक (आज़ाद) को संघ शत शत नमन करती है। संघ के संस्थापक सदस्य अप्पू तिवारी ने इस अवसर पर बागबेड़ा परशुराम भवन में आयोजित सभा में कहा कि जंग-ए-आजादी में नौजवानों ने अपने प्राणों की आहुति देकर देश आजाद कराया था । सोलह वर्ष के खुदीराम बोस से लेकर भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, अशफाक उल्ला, बिस्मिल,’आज़ाद’ सहित हजारों क्रांतिकारियों ने अपना सबकुछ देश के लिए न्यौछावर कर दिया। उद्देश्य था अन्याय शोषण और भ्रष्टाचार मुक्त भारत का निर्माण। आज की परिस्थिति में जब देश में हीं भारत विरोधी नारे लगाकर देश को बाँटने की शाजिश रची जा रही है , ऐसे में एक बार फिर उन्हीं क्रांतिकारियों की सोच पर चलने की जरूरत है। देश विरोधी व अलगाववादी ताकतों के ख़िलाफ़ हमें एकजुट होना होगा । इस दौरान पूरा क्षेत्र ‘वंदेमातरम’ एवं इंकलाब जिंदाबाद के गगनभेदी नारों से गुंजायमान रहा। कार्यक्रम की अध्यक्षता नवमनोनित ज़िलाध्यक्ष विजय प्रकाश पाठक ने किया। कार्यक्रम का संचालन उपाध्यक्ष सुनील शर्मा ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन महामंत्री सतीश तिवारी ने किया। इस दौरान संघ के पवन ओझा,अंकित आनंद,अभिषेक पांडेय,अभिषेक ओझा,अरुण शुक्ला,ललित मिश्रा,प्रमोद मिश्रा ने भी विचार रखें। इस दौरान विशेष रूप से सत्यम पांडेय,सूरज ओझा,अंकुर तिवारी,निशांत मिश्रा,विकास तिवारी,अमन मिश्रा,दिवाकर पांडेय,अमन पाठक समेत काफ़ी संख्या में संघ के सदस्य मौजूद थें।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More