जमशेदपुर-शराब बेचने के खिलाफ कांग्रेस उतरेगी सड़क पर

 

जमशेदपुर। 24 फरवरी

शराब बेचने की सरकार के निर्णय के बाद सरकार पर चारों तरफ से हमला शुरु हो गया है । अब इस निर्णय के खिलाफ कांग्रेस सड़क पर उतर कर अंदोलन करने  का निर्णय लिया है । हलाकि आंदोलन कब से होगा इस इसकी तिथि घोषित नहीं की गई है।  लेकिन कांग्रेसियों ने खुल कर इस मामले को लेकर सड़क पर उतरने का फैसला लिया है।  जमशेदपुर के एक होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जमशेदपुर के जिला अध्यक्ष विजय खान ने कहा कि सरकार के इस फैसले की जितनी निंदा की जाए उतनी कम है । एक तरफ जनता राज्य में शराब बंद करने की मांग कर रही हैं वही दूसरी तरफ राज सरकार  शराब  खुद बेचने का फैसला ले रही है।  राज सरकार का कहना है की इस फैसले से राज्य सरकार को राजस्व में काफी वृद्धि होगी.  राज सरकार को अगर राजस्व प्राप्त करना है तो किसान से राजस्व प्राप्त कर सकते हैं किसानों से उपज पर अगर सरकार ध्यान देगी तो राजस्व प्राप्त हो सकता है। उन्होने कहा मुख्यमंत्री रघुवर दास शराब बेचने को अड़े है। वही उनके तीन मंत्रीयो के द्वारा इसका विरोध किया जा रहा है।  सरकार ने घोषणा कि हम शराब बेचेगे अगर राजस्व ज्यादा प्राप्त करना है । उन्होने कहा कि किसान के द्वारा जो सब्जी या अनाज उपजाता है राजस्व वहा से प्राप्त कर सकती है। उन्होने कहा कि राज्य सरकार एक ओर  नई नई कपंनियो को  न्यौता दे रही है। बड़े बड़े कार्यक्रम रांची मे करके एमएयू किए गए है और वही दुसरी ओर  झारखंड केकरीब 1554 व्यावासाई को भगाया जा रहा है। झारखंड से व्यावासाईयो के साथ साथ यहा के प्रतीक हाथियो को उड़ा रहीहै। उन्होने कहा ये सरकार  अंहकार मे है ताना साह हो गई है। विपक्ष क्या सत्ता पक्ष के लोगो की भी नही सुनी जा रही है कहा जाए  किसी की नही सुना जा रहा है । उन्होने कहा कि सरकार द्नारा शराब बेचने के पीछे भी एक राज है।  जब  जब भाजपा सरकार बनी तब तब बाहर के लोगो को शराब बेचने का ठेका दी जा रही है।इसका उदाहरण 2007 मे अर्जून मुण्डा की सरकार के द्वारा बाहर की कपनियो को दिया गया।जब यूपीए की सरकार बनी तो सभी का लाईसेस रद्द किया है।

उन्होने कहा कि इसलिए कॉग्रेस पार्टी ने  निर्णय लिया कि इन सब मामलो को लेकर हमलोग सीधे सड़क पर उतर कर विरोध करेगे। और जल्द ही इस मामले को लेकर रणनिती बनाकर जोड़दार विरोध किया जाएगा।

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More