जमशेदपुर-पूर्ण शराब बंदी औऱ भोजपुरी भाषा को वेकर जद(यु) महिला मोर्चा ने  जिला मुख्यालय मे प्रर्दशन

71

 

जमशेदपुर। 08मार्च

अतंराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर बिहार की तर्ज पर पुरे झारखण्ड प्रदेश मे पूर्ण शराब बंदी एंव भोजपुरी भाषा को आठवी अनुसुची मे शामिल करने की मांग को लेकर पुरे झारखण्ड प्रदेश मे जदयु महिला मोर्चा द्वारा सभी जिला मुख्यालयो पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया ! जमशेदपुर उपायुक्त कार्यालय के सामने आयोजित धरना कार्यक्रम मे बतौर मुख्य अतिथि युवा जदयु झारखण्ड प्रदेश अध्यक्ष सह कोल्हान प्रभारी डॉ पवन पाण्डेय एंव विशिष्ट अतिथि के रूप मे जदयु झारखण्ड प्रदेश महिला मोर्चा अध्यक्ष श्रीमति विजयवासनि पाण्डेय उपस्थित थी । कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए डॉ पवन पाण्डेय ने कहा की आज अतंराष्ट्रीय महिला दिवस है एक और सरकार महिला सशक्तिकरण की बात करती है महिला उत्पिडन को जड से उखाडने की बात करती है महिलाओ को स्वालम्बी बनाने की बात करती है घरेलु हिंसा रोकने की बात करती भ्रुण हत्या रोकने की बात करती है लेकिन जब ईन सबकी एक बडी वजह शराब इसे बंदी को लेकर महिलाये,युवा मांग करते है तो सरकार इन मांगो को एक सीरे से नकार कर और शराब के सेवन को बढावा देने के लिए उसकी बिक्री को बढाने के लिए खुद शराब बेचने के लिए आगे आ रही है ! एैसी स्थिति मे आप सभी महिलाये सरकार की मंशा को बखुबी समझ सकती है यह सरकार सिर्फ दिखावे के लिए राजनितिक लाभ लेने के लिए घोषणा करती है लेकिन जब घोषणा को पुरी करने की बात सामने आती है तो सरकार साफ मुकर जाती है !अब हम ईस झुठी सरकार को सहन नही कर सकते है आज महिला दिवस के दिन हम सबको यह संकल्प लेना होगा की हम गॉव गॉव जाकर प्रखंड से लेकर पंचायत स्तर पर झारखण्ड की जनता को इस सरकार की कथनी और करनी का फर्क समझायेगे और जनता को यह विश्वास दिलायेगे की आप हमे समर्थन दे झारखण्ड मे भी जदयु पार्टी सरकार को मजबुक कर बिहार की तर्ज पर झारखण्ड मे पूर्ण शराब बंदी लागु कराके ही दम लेगी ! कार्यक्रम को ज्योति सोय,सबिता दिप, शाईस्ता शाहिन,सबिता देबी,अनिता देबी ने भी सम्बोधित किया ! कार्यक्रम का संचालन राजीव ओझा ने तथा धन्यवाद जितेन्द्र मिश्रा ने दिया ! कार्यक्रम मे चंपा सोना,गीता देबी,पप्पु सिंह, संतोष सामंत, गणेश ठाकुर,विकास सिंह, ललित ढिगरा,अनिल कुमार, मो० रफिक, मो० गुफरान खान सहित सैकडो महिला युवा जदयु कार्यकर्ता शामिल थे ।

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More