अंतिम चरण में 70.42 प्रतिशत मतदान, 23 को होगी मतगणना

रांची,20दिसंबर। राज्य में पांचवें और अंतिम चरण में सोलह विधानसभा सीटों के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच आज दोपहर तीन बजे शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न हो गया। इस चरण में 70.42 से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इसके साथ ही पांच चरणों में इक्यासी विधानसभा सीटों के लिए अब मतदान का कार्य संपन्न हो गया है। इन सीटांे के लिए तेईस दिसंबर को सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू होगी और दोपहर बाद सभी सीटों के लिए परिणाम आ जाने की संभावना है। निर्वाचन आयोग की देखरेख में मतगणना को लेकर सभी आवश्यक तैयारियांे को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इक्यासी विधानसभा सीटों के लिए मतांे की गिनती 24 केंद्रों पर होगी। जहां-जहां ईवीएम रखी गई है, वहां सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पहले चरण में13 विधानसभा सीटों के लिए 199, दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों के लिए 223, तीसरे चरण में17 विधानसभा सीटों के लिए 289, चैथे चरण में 15 विधानसभा सीटों के लिए 217 और पांचवें तथा अंतिम चरण में16 विधानसभा सीटों के लिए 208 प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे।
इस तरह कुल 1136 प्रत्याशियों के राजनीतिक भविष्य का 23 दिसंबर को मतगणना के दिन होगा। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर तीन बजे तक इन सोलह सीटों के लिए प्रारंभिक सूचना मिलने तक 74.42 प्रतिशत मतदान होने की खबर है। राजमहल विधानसभा सीट के लिए 67 प्रतिशत, बोरियो मे ं68, बरहेट में 69, लिट्टीपाड़ा में 75.20, पाकुड़ में 75.50, महेशपुर में 75., शिकारीपाड़ा में 74, दुमका में 63, जामा में 71, जरमुण्डी में 71, नाला में 74, जामताड़ा में 71, सारठ में 75.47, पोड़ैयाहाट में 68, गोड्डा में 65.28 और महगामा विधानसभा में 66.32 प्रतिशत मतदान की खबर है।
पांचवें और अंतिम चरण में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के चुनावी किस्मत का फैसला होना है उनमें झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन, लोबिन हेम्ब्रम, शशांक शेखर भोक्ता, सीता सोरेन, स्टीफन मरांडी, भाजपा के साईमन मरांडी, हेमलाल मुर्मू, कांग्रेस के आलमगीर आलम, राजेश रंजन, झाविमो के प्रदीप यादव और राजद के संजय प्रसाद यादव शामिल हैं।
गोड्डा जिले में विभिन्न राजनीतिक दलों के तीन वाहनों को पुलिस ने उस वक्त जब्त कर लिया, जब वे बिना अनुमति के मतदान केन्द्रों के समीप घूम रहे थे। मतदान को लेकर आज ग्रामीण क्षेत्रों में खासा उत्साह देखा गया, कई मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे मतदान शुरू होने के पहले ही मतदाता लाईन में आकर खड़े हो गये थे। मतदान को लेकर महिला मतदाताओं में भी खासा उत्साह देखा गया। मतदान शुरू होने के पहले निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश के अनुरूप सभी मतदान केंद्रों पर सुबह छह बजे माॅक टेस्ट हुआ, इस दौरान ईवीएम की गड़बडि़यां तथा अन्य छोटी-बड़ी परेशानियों को दूर कर लिया गया। संवेदनशील और अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों पर अर्द्धसैन्य बलों की तैनाती की गयी थी, जबकि सामान्य बूथों पर भी पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बलों की प्रतिनियुक्ति की गयी थी। उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में भी बड़ी संख्या में मतदाता घर से निकल कर मतदान केंद्रों तक पहुंचे।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More