Success Story:मिश्रित बागवानी बनी जीने का स्रोत घर की आर्थिक स्थिति में सुधार तथा दूसरों के लिए मिसाल बन कर उभरी सविता सिंह

87
TATA-STEEL_810

जमशेदपुर।

गोलमुरी सह जुगसलाई प्रखंड के बड़ाबाकी पंचायत में सविता सिंह की जमीन पर मिश्रित बागवानी बिरसा हरित ग्राम योजना के माध्यम से की जा रही है। इस योजना के तहत सविता सिंह को 3,66,811.00राशि प्रदान की गई है।

मिश्रित बागवानी कर सविता ने अपने जीवन का सहारा बना कर आत्मनिर्भर बनने का काम किया है ,और अन्य लोगों के लिए भी प्रेरणा का काम कर रही है ।इस खेती के माध्यम से ही वे अपने परिवार का पालन पोषण सही तरीके से कर रही है।

मिश्रित खेती के अंतर्गत फलदार पौधों की बागवानी की जा रही है। जिसमें आम अमरूद और शीशम के पौधे लगाए गए हैं। जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी तथा अस्थाई परिसंपत्ति का भी निर्माण होगा।
सविता सिंह का सरकारी मार्गदर्शिका का अनुपालन कर बागवानी योजना को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

बिरसा हरित ग्राम योजना से जुड़ लाभुक ने खुद की अपनी पहचान बनाई है। साथ ही बागवानी योजना के सफल क्रियान्वयन के साथ लाभुक द्वारा मिश्रित कृषि भी की गई है,

जिससे लाभुक के अलावा अन्य ग्रामीणों को भी साल भर का रोजगार मिला है, इससे उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार हो गई है ।लाभुक सविता सिंह दूसरों लोगों के लिए मिसाल बन कर उभरी हैं। इस योजना के पूर्ण रूप से सफल क्रियान्वयन से लाभुक के आय में 2 गुना वृद्धि होने से लाभुक के द्वारा अत्यंत प्रसन्नता व्यक्त की गई, और सरकार को इस योजना के संचालन के लिए बहुत-बहुत आभार भी व्यक्त किया गया।

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More