61 साल का दूल्‍हा, 28 की दुल्‍हन, पुलिस ने दूल्‍हे को भेजा जेल

55

संवाददाता,कानपुर,19 अगस्त

रविवार को कानपुर के नौबस्‍ता इलाके में उम्र पचपन की दिल बचपन फिल्‍म का दृश्‍य चरितार्थ होता नजर आया। यहां एक 61 साल का बुजुर्ग 28 वर्ष की महिला से निकाह करने के लिए आया हुआ था। बुजुर्ग ने लड़की के परिवार वालों को बताया था कि उसका पहली पत्‍नी के साथ तलाक हो गया है लेकिन जब सच सामने आया तो उसे मंडप में बैठने की बजाय जेल की हवा खानी पड़ी।

बताते चलें, कानपुर देहात के बरौरा थाना अंतर्गत कलई गांव के रईस अहमद जो अपने उम्र की 61 बसंत देख चुके हैं। रविवार को कानपुर नौबस्ता थाना अंतर्गत आवास विकास कालोनी में रहने वाले कलीमउल्ला खान की 28 वर्षीय बहन से निकाह करने आए थे। सिर पर शादी की पगड़ी के बजाय समाजवादी पार्टी की लाल टोपी और सफेद कुर्ता पजामा पहने रईस बेहद खुश थे। मगर इस बुजुर्ग दुल्हे की खुशी तब फुर्र हो गई। जब उनकी पहली बेगम नाइमा भी मौके पर आ धमकी। रईस के हसीन सपने पल भर में टूट कर बिखर गए। यही नहीं, रईस को इतने कम उम्र की लड़की से शादी करने के चक्‍कर में जेल भी जाना पड़ा।

रईस अहमद की पहली बेगम नाइमा के मुताबिक, इनके शौहर रईस पेशे से किसान हैं। कानपुर देहात के कलई गांव में इनकी अच्‍छी खेतिहर भूमि भी है। खेती से आमदनी भी अच्‍छी होती है। अपने गांव में रईस पैसे वाले किसान के रूप में जाने जाते हैं। नाइमा ने बताया कि आज से करीब 35 साल पहले रईस के साथ निकाह कर ये इनकी बेगम बनी थीं। रईस के सात बच्चे भी हैं। इनके बड़ी बेटी की उम्र 32 वर्ष है लेकिन उसका निकाह अभी तक नहीं किया है।

क्‍या कहती हैं नाइमा

बेगम नाइमा के मुताबिक, पिछले करीब 6 महीने से रईस हर बात पर चिढ़ जाते हैं और लड़ाई करने लगते हैं। लड़ाई के दौरान उन्‍होंने कई बार धमकी भी दी कि मैं दूसरी शादी कर लूंगा। नाइमा को पहले ये सब बातें मजाक लगीं। मगर एक हफ्ता पहले पता चला कि रईस सच में शादी करने जा रहे हैं। नाइमा ने बताया कि करीब एक महीना पहले रईस से उनका जमकर झगड़ा हुआ था। जिसके बाद ये गुस्सा कर अपने मायके चली गई थीं। नाइमा ने बताया कि मुझे शनिवार को यह बात पता चली कि रईस तलाक की झूठ बात बोलकर एक 28 वर्ष की युवती से शादी रचा रहे हैं। उन्‍होंने युवती के परिवारजनों को 3 लाख रुपए देने की भी बात कही थी।

क्‍या कहते हैं रईस अहमद

इधर, रईस अहमद ने बताया कि उनकी पहली बेगम ने उनका जीना मुहाल कर दिया था। आए दिन किसी न किसी बात पर वो झगड़ा करती थी। मोहल्ले वालों से बिना बात के लड़ाई करती थी। जिससे तंग आकर उन्‍होंने दूसरी शादी करने का फैसला लिया। रईस ने इस बात को स्‍वीकार किया कि उन्‍होंने अपनी पहली बेगम से अभी तलाक नहीं लिया है।

जब पंचायत ने कराया समझौता
शादी के कार्यक्रम में रईस की पहली बेगम के पहुंच जाने और हंगामा काटने से लड़की के भाई कलीमउल्ला ने अपनी बहन की शादी बुजुर्ग रईस के साथ करने से मना कर दिया। लड़की के भाई ने शादी में खर्च हुए करीब दो लाख रुपए तत्काल देने की बात कही। रईस ने कहा कि रकम बाद में दे देंगे। इस पर युवती के भाई ने उसी समय बड़े बुजुर्गो की एक पंचायत बिठाई और स्टांप कागज पर समझौता नामा तैयार करवाया। जमानत के तौर पर भाई ने बोलेरो जीप को रखवा लिया है। इसी बालेरो से बुजुर्ग दूल्‍हे मियां शादी करने के लिए कानपुर देहात से आए थे।
खिसकने लगे बाराती, पहुंची पुलिस

यहां शादी में दूल्‍हें के साथ बाराती भी माहौल बिगड़ता देख धीरे-धीरे खिसकने लगे। बाराती भी कुल 15-20 की संख्‍या में ही थे। इसी बीच किसी ने मीडिया और पुलिस को खबर कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने रंगीन मिजाज दूल्हे को धर दबोचा। ऐसे में  रईस की बेगम ने पुलिस को अपने शौहर के खिलाफ प्राथना पत्र दे दिया। फिलहाल रईस अभी हवालात में ही हैं। उधर जब मीडिया के लोगों ने युवती के भाई से बात करनी चाहा तो वह झगड़ा करने पर आमादा हो गया। लेकिन पुलिस ने हस्तक्षेप कर मामले को संभाल लिया। चंद रुपयों की खातिर अपनी बहन का सौदा कर रहे भाई को इस बात का कोई मलाल नहीं की वह अपनी बहन का निकाह एक बुजुर्ग इंसान के साथ करने जा रहा था।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More