Breaking News :
जमशेदपुर -किरण क्रियेशन की तीन दिवसीय प्रदर्शनी का भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार ने किया उद्घाटन | देवघर -सावन के पहले दिन 72,672 श्रद्धालुओं नेजलार्पण किया | जमशेदपुर -मिनरल प्रोसेसिंग कार्यशाला AMPTIC-19 के दुसरे दिन मिनरल के पेलेटिज़शन के विषय पर चर्चा | दुमका - 35 लाख किसानों को 3 हजार करोड़ का देना है लाभ-रघुवर दास | जमशेदपुर -बाबूलाल गुरुवार को शहर में,करेगेें सदस्यताअभियान की शुरुआत | जमशेदपुर - मंत्री सरयूू राय के यहां 35 हजार से अधिक लोगों ने रामार्चा पूजा का प्रसाद ग्रहण किया | देवघर : मुख्यमंत्री ने दुम्मा प्रवेश द्वार पर किया श्रावनी मेले का उद्घाटन राज्य की जनता के लिये मांगी सुख समृद्धि । | जमशेदपुर -MP के  पहल  पर RANCHI के लिए TATA से एक ओर ट्रेन | आज से शुरू हो रहा है सावन का शुभ महिना कुछ खास चीजे अर्पित कर पा सकते है महावरदान | Max Life Insurance expands footprint in Jamshedpur | रांची :रिम्स में दो दिनो से है लिंक फेल मरिज परेशान | रांची : रांची और जमशेदपुर एरिया बोर्ड में विधुत वितरण का होगा निजीकरण | मुजफ़्फ़रपुर : पुर्व मुखिया को बाइक सवार अपराधियो ने गोली मारी, मौत | दरभंगाः बाढ के कारण तटबंध टुटने से 34 की मौत | देवघर - श्रावणी मेले का आज मुख्यमंत्री करेगे उद्घाटन | आज सावन का पहला दिन 22 जुलाई को है पहली सोमवारी | मधुबनी - एन०डी०आर०एफ० के बचावकर्मियों ने बाढ़ प्रभावित गर्भवती महिला को अस्पताल पहुँचाया, महिला ने बच्ची को जन्म दिया | जमशेदपुर -सदस्यता अभियान में तेज़ी लाएं कार्यकर्ता : दिनेश | जमशेदपुर -'हर बूथ 10 यूथ का नारा के साथ शुुुुरु हुआ सदस्यता अभियान | जमशेदपुर -आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर 'तरुण मित्र मंडली'नें शुरु कियाअपना अभियान |

जमशेदपुर – भरतनाट्यम अरंगेत्रम का हुआ आयोजन

जमशेदपुर।

दक्षिण भारत के मंदिरों में प्रभु की आराधना स्वरूप किया जाने वाला नृत्य है भरतनाट्यम। सुरताल और भाव के सम्मिश्रण के साथ पदहस्तनेत्र और गर्दन के संचालन का अद्भुत संयोजन इस नृत्य का आकर्षण है। भाषा से परे सिर्फ अनुभूति से ही इसका आनंद लिया जाना संभव है। इसका प्रत्यक्ष प्रमाण रविवार शाम माइकल जॉन सभागार  में आयोजित भरतनाट्यम की प्रस्तुति से सजे कार्यक्रम अरंगेत्रम में देखने को मिला। अर्पण डांस अकादमी , जमशेदपुर  के इस कार्यक्रम में संस्था की  नृत्यांगना 15 वर्षीय व कारमेल की छात्रा सुश्री अनन्या दत्ता  ने जता दिया कि उनकी कितनी अच्छी तैयारी है। दो चरणों में हुए इस कार्यक्रम के पहले चरण में भरतनाट्यम के सरल रूप की प्रस्तुति दी गई जबकि दूसरे चरण में अनन्या ने भरतनाट्यम की जटिलता को बड़ी निपुणता से प्रस्तुत किया I

अनन्या ने सुंदर तालमेल के साथ नृत्य के रूप को कलात्मक कुशलता से निखारा तो अपना व्यक्तिगत नृत्य कौशल्य भी सुंदरता के साथ अभिव्यक्त किया। उनके नृत्य में सुविचारित कल्पनाशीलता भी थी और लयात्मक पद संचालन भी था। अपनी भावभंगिमाओं और आकर्षक हस्त मुद्राओं से नृत्य के सौंदर्य को साकार किया।  

अनन्या ने अलग अलग नृत्य संरचनाओं के जरिए भरतनाट्यम के वैशिष्ट्य को साकार किया।

कार्यक्रम के प्रारंभ से पूर्व कार्यक्रम की मुख्य अतिथि  रविन्द्र भारती विश्व विद्यालय , पश्चिम बंगाल की प्रधानाध्यापिका डॉ0पुष्पिता मुखर्जी बकौल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थी I

 
पुष्पांजलि और फूलों के खिलने की नाज़ुक प्रक्रिया को किया साकार

श्रोताश्व्नी  राग और आदि ताल से सजी पुष्पांजलि से कार्यक्रम की शुरुआत हुई। चक्रवाका राग और आदि  ताल से सजी गणेश कृथी को  अनन्या ने बड़ी खूबसूरती से प्रस्तुत किया। फूलों के खिलने की प्रक्रिया पर केंद्रित इस नृत्य में पद संचलन के साथ ही हस्तमुद्राओं और नेत्र संचलन ध्यानाकर्षी था। जतीश्वरम नृत्य में श्रृंगार का वर्णन कियातो राग रागामाल्लिका  और मिश्रा छपु ताल में वर्णम नृत्य प्रस्तुत करते हुए नृत्यांगना ने प्रभु की आराधना को नृत्य रूप में रामायणा शब्दम को दिखाया प्रभु की आराधना वाला ये नृत्य भावों से परिपूर्ण में कीर्तनम था I

कार्यक्रम के दुसरे चरण में पद भरन्म , सरस्वती भजन , तिल्लाना एवं अंत में तिल्लाना की प्रस्तुति के साथ भरतनाट्यम अरेंग्त्रम कार्यक्रम का समापन हुआ I

सुकुमार कुट्टी  के सुरों के साथ नत्तुवंगम सुमति राजन मृदंग पर डी०मलय वायलिन पर ऐ०सत्य विशाल  और बांसुरी पर कुमार बाबु एवं घटम पर शमिसन आचार्य  ने सराहनीय संगत की।

कार्यक्रम के सफल आयोजन में प्रसंजित दत्ता  , सुधा दत्ता , गुरु सुमति रंजन  का सराहनीय सहयोग रहा I

0